close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान में चाइनीज मांझे का कहर, एक वयक्ति की कटी नाक

राजस्थान के बाड़मेर में सोमवार को मदन सिंह (35 वर्ष) नामक वयक्ति के मांझे की चपेट में आने से नाक का एक हिस्सा पूरी तरह कट गया. 

राजस्थान में चाइनीज मांझे का कहर, एक वयक्ति की कटी नाक
मकर संक्रांति के दौरान चाइनीज मांझे की चपेट में आकर कई लोग घायल हो गये. (फाइल फोटो)

बाड़मेर: मकर संक्रांति के पहले राज्य सरकार और कई स्वयंसेवी संस्थाओं ने चाइनीज मांझे के प्रयोग से दूर रहने की चेतावनी दी थी. लेकिन बाड़मेर में पतंगबाजों ने चाइनीज मांझे का जमकर प्रयोग किया गया. जिसकी चपेट में आने से बाड़मेर का एक वयक्ति सोमवार सुबह घायल हो गया. 

सूत्रों ने बताया कि राजस्थान के बाड़मेर में सोमवार सुबह मदन सिंह (35 वर्ष) अपने काम पर जाने के दौरान चाइनीज मांझे की चपेट में आ गया था. जिसके कारण उसकी नाक का एक हिस्सा पूरा कट गया. मौके पर मौजूद लोगों ने उसे गंभीर हालत में स्थानीय अस्पताल में भर्ती करवाया है.

बताया जा रहा है कि घटना में घायल मदन सिंह अपने घर से कृषि मंडी के लिए अपनी मोटरसाइकिल पर सवार होकर जा रहा था. इसी दौरान अचानक चाइनीस मांझा उसकी बाइक के आगे नाक के ऊपर आ गया और नाक का एक हिस्सा पूरी तरह कट गया. 

आपको बता दें कि, मकर संक्रांति से पहले बाड़मेर में चाइनीज मांझे की चपेट में इससे पहले भी कई लोग आ चुके है. लेकिन प्रशासन चाइनीस मांझे की बिक्री पर कोई रोक नहीं लगा पाई. 

वैसे राज्य सरकार के अलावा स्वयंसेवी संस्थाओं ने मकर संक्रांति के पहले आम लोगों के लिए जागरूकता अभियान भी चलाया था. राज्य सरकार और जिला प्रशासन ने चाइनीज मांझे के प्रयोग पर रोक लगाने के लिए पहल करने का दावा किया था. लेकिन इस तरह की घटनाओं ने सरकार और प्रशासन के दावों की पोल खोल दी है.