Jaipur: सभासद भवन में होगी फिल्मों की शूटिंग! ग्रेटर नगर निगम ने उठाने जा रहे ये कदम

Jaipur News: नगर निगम के पास फिल्म कंपनी से तीन दिन के किराए पर लेने का प्रस्ताव आया हैं, जिस पर मेयर डॉक्टर सौम्या गुर्जर की मुहर लगना बाकी हैं.

Jaipur: सभासद भवन में होगी फिल्मों की शूटिंग! ग्रेटर नगर निगम ने उठाने जा रहे ये कदम
सभासद भवन में होगी फिल्मों की शूटिंग! (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Jaipur: नगर निगम ग्रेटर का सभासद भवन में यानि की शहरी सरकार के सदन में फिल्म की शूटिंग देखने को मिल सकती हैं. नगर निगम इस सभासद भवन को किराए पर देने की तैयारी कर रहा हैं. नगर निगम के पास फिल्म कंपनी से तीन दिन के किराए पर लेने का प्रस्ताव आया हैं, जिस पर मेयर डॉक्टर सौम्या गुर्जर की मुहर लगना बाकी हैं. यदि इस प्रस्ताव पर मुहर लगती है तो नगर निगम के खजाने में पैसा भी आएगा. लेकिन इस कदम से नगर निगम ग्रेटर के अधिकारियों पर सवाल भी खड़े हो रहे हैं.

दरअसल, जयपुर नगर निगम ग्रेटर का एतिहासिक सभासद भवन में अब तक बोर्ड की बैठक होती थी. लेकिन अब इस सदन में फिल्म की शूटिंग की तस्वीरें भी देखने को मिल सकती हैं. नगर निगम इस सभासद को किराए पर देने की तैयारी कर रहा है. हालांकि, इस कदम से नगर निगम ग्रेटर (Nagar Nigam Greater) के अधिकारियों पर सवाल जरूर खड़े हो रहे हैं, क्योंकि जिस तरह लोकसभा, विधानसभा में सांसद और विधायक अपने अपने क्षेत्र के मुद्दे उठाते हैं उसी तरह शहरी सरकार के सदन में शहर के विकास के मुद्दों को उठाया जाता हैं.

ये भी पढ़ें-Jaipur News: MPS School में अभिभावकों का भारी विरोध प्रदर्शन, जानिए क्या है मामला

 

वहीं, इस मामले पर मेयर डॉक्टर सौम्या गुर्जर ने कहा की राजस्व कैसे आए इसकी प्लानिंग की जा रही हैं. क्योंकि नगर निगम की माली हालत बहुत खराब है. हालांकि, इस प्रस्ताव की फाइल XEN से लेकर आयुक्त के टेबल से मेयर डॉक्टर सौम्या गुर्जर की टेबल तक पहुंच चुकी हैं. बस इंतजार मुहर लगने का है.

दूसरी तरफ, पूर्व मेयर विष्णु लाटा का कहना है नगर निगम के खजाने में पैसा लाने के और तरीके हैं. UD Tax वसूली, होर्डिंग्स नीलामी से भी रेवन्यू लाया जा सकता हैं. ये एक एतिहासिक सभासद है, जिस तरह लोकसभा और विधानसभा में जनप्रतिनिधि बैठकर अपनी बात उठाते हैं उसी तरह ये शहरी सरकार का सदन है. इस सदन की भी मर्दादा हैं. इसे किराए पर देना वो भी फिल्म कंपनी को अपमानित करने जैसा हैं.

ये भी पढ़ें-Jaipur News: पटवार मंडल सूने, जाति प्रमाण, मूल निवास, EWS बनने से अटके

बहरहाल, शहरी सरकार की मुखिया भले ही कुछ इस मामले पर बोलने को तैयार नही हैं लेकिन शहर में इस सभासद भवन को किराए पर देने को लेकर सवाल जरूर खड़े हो रहे हैं.