कोरोना संकट में भी मालगाड़ियों का संचालन जारी, जनता कर रही रेलवे कर्मचारियों को सलाम

पूरे देश में कोरोना का कहर मचा हुआ है.

कोरोना संकट में भी मालगाड़ियों का संचालन जारी, जनता कर रही रेलवे कर्मचारियों को सलाम
प्रतीकात्मक तस्वीर.

दामोदर प्रसाद, जयपुर: पूरे देश में कोरोना का कहर मचा हुआ है. वहीं, उत्तर पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक आनंद प्रकाश ने जानकारी देते हुए कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में देश में कोरोना वायरस के प्रभाव को देखते हुए हमारे सभी रेलकर्मी बेहतर तरीके से और पूर्ण जिम्मेदारी के साथ अपना कार्य निर्वहन कर रहे हैं. 

आने वाले समय में हम सभी की जिम्मेदारी और अधिक बढ़ने वाली है, इसके लिए हम सब संकल्प लें कि हम पूर्ण निष्ठा के साथ अपने कर्तव्यों का पालन कर देशवासियों को सेवाएं प्रदान करेंगे.

दरअसल, भारतीय रेल द्वारा कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सभी यात्री रेल सेवाओं का संचालन 31 मार्च तक बंद कर दिया गया है लेकिन, रेलवे पहले की भांति देश की सेवा में प्रतिदिन 24 घंटे कार्यरत है. आमजन तक आवश्यक सामग्री यानी Essential Commodities की निर्बाध आपूर्ति हो सके, इसके लिए मालगाड़ियों का संचालन सुचारू रूप से जारी है.

रेलवे द्वारा आवश्यक सामग्री जैसे खाद्यान्न, कोयला, पेट्रोकेमिकल, नमक, चीनी, खाद सहित का नियमित तौर पर परिवहन किया जा रहा है. इस कार्य के लिए रेल कर्मचारी 24 घंटे जिम्मेदारी के साथ अपना कार्य निर्वहन कर रहे हैं. माल परिवहन के संचालन में हमारे कंट्रोल ऑफिस में कार्यरत कर्मचारी, फील्ड में कार्य करने वाले कर्मचारी, Crew स्टाफ, रेलवे सुरक्षा बल के जवान और चिकित्सा विभाग के कर्मचारी पूरी मुस्तैदी के साथ कार्य कर रहे हैं. न्यूनतम कर्मचारियों द्वारा कार्यों का निष्पादन किया जाए.

हमने कार्यालयों में कम से कम उपस्थिति के लिए रोस्टर बनाने तथा वर्क फ्रॉम होम जैसी सुविधाएं प्रदान की हैं. उत्तर पश्चिमी रेलवे महाप्रबंधक आनंद प्रकाश में कहा कि राज्य सरकार के साथ निर्देशों अनुसार स्थानीय प्रशासन के सहयोग से ऐहतियात बरतते हुए भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें एवं सरकार द्वारा दिए गए सभी निर्देशों का पालन करें.