close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान के इस ट्री मैन ने लगाए हजारों पेड़, पर्यावरण संरक्षण का दिला रहे संकल्प

राजस्थान के एक छोटे से इलाके के रहने वाले एक व्यक्ति ने कुछ ऐसा किया जिससे पूरा देश प्रेरणा ले सकता है. 

राजस्थान के इस ट्री मैन ने लगाए हजारों पेड़, पर्यावरण संरक्षण का दिला रहे संकल्प
ट्री मैन चंद्रशेखर शर्मा नागौर जिले के डीडवाना के रहने वाले हैं.

डीडवाना(नागौर): कभी-कभी एक छोटी सी शुरुआत इंसान में जज्बे का रूप ले लेती है और इस तरह का जज्बा अगर बरकरार रहे तो एक आम आदमी भी पूरे समाज के लिए आदर्श के रुप में स्थापित हो सकता है. जी हां, राजस्थान के एक छोटे से इलाके के रहने वाले एक व्यक्ति ने कुछ ऐसा किया जिससे पूरा देश प्रेरणा ले सकता है. 

प्रदेश के नागौर जिले के डीडवाना के इस व्यक्ति को ट्री मैन के नाम से जाना जाता है. इस काम की बदौलत इस शख्स की पहचान ट्री मैन के रुप में हो रही है. डीडीवाना के रहने वाले पर्यावरण संरक्षण के प्रहरी ने 3 साल में पर्यावरण संरक्षण के लिए क्षेत्र में हजारों की संख्या में ना केवल ना केवल पेड़ लगाए बल्कि उनका संरक्षण भी किया. इस दौरान वो गांव-गांव में घूमकर हजारों पौधे वितरित कर चुके हैं. इसके साथ हीं शर्मा ग्रामीणों से पर्यावरण संरक्षण का संकल्प भी दिलाते हैं.

बदली पार्क की सूरत
इस ट्री मैन का नाम है चंद्रशेखर शर्मा. जिन्होंने 1 साल पहले तैयार हुए डीडवाना के नेहरू पार्क में उस वक्त सैकड़ों पौधे लगाए गए थे लेकिन उचित देखभाल के अभाव में यहां गिनती के पौधे ही बचे थे. लेकिन शर्मा की बदौलत यहां 400 से अधिक पौधे लगाए गए ना केवल पौधे लगाए गए बल्कि उनके संरक्षण का भी संकल्प लिया गया. 

लाइव टीवी देखें-:

पर्यावरण संरक्षण से संबंधित एक कार्यक्रम के दौरान स्थानीय थानाधिकारी जगदीश मीणा ने कहा कि पौधारोपण करना कोई बड़ी बात नहीं है लेकिन पौधे से वृक्ष होने तक उसकी सेवा करना ज्यादा अहमियत रखता है. उन्होंने कहा कि पौधारोपण के साथ ही उस पौधे की सेवा करने का विवरण आम आदमी को लेना चाहिए. जिससे प्रकृति में संतुलन बना रहेगा. 

पर्यावरण के प्रति हर व्यक्ति रहे जागरुक
इस दौरान ट्री मैन चन्द्रशेखर ने कहा कि उसकी यह पहल एक दिन एक क्रांति बनकर उभरे और हर व्यक्ति पर्यावरण के प्रति जागरूक होकर अपनी जिम्मेदारी निभाये. जिससे आने वाला भविष्य सुरक्षित हो सके.