close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: पुलिस कॉन्स्टेबल की हत्या पर बोली BJP- 'प्रदेश में कानून व्यवस्था बेहाल'

बीजेपी ने कहा कि सरकार का कानून व्यवस्था पर नियंत्रण नहीं रहा, जिसकी वजह से प्रदेश को शर्मसार करने वाली ऐसी घटनाएं हो रही हैं.

राजस्थान: पुलिस कॉन्स्टेबल की हत्या पर बोली BJP- 'प्रदेश में कानून व्यवस्था बेहाल'
बीजेपी ने कहा कि कानून व्यवस्था सरकार की प्राथमिकता में ही शामिल नहीं है.

जयपुर: भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता लक्ष्मीकान्त भारद्वाज ने राजसमंद जिले में पुलिसकर्मी की हत्या को गंभीर घटना बताते हुए कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था पटरी से उतर चुकी है, अपराधियों के मन से कानून का डर खत्म हो चुका है.

भारद्वाज ने कहा कि बेखौफ हो चुके अपराधियों ने बयान लेकर लौट रहे हैड कॉन्स्टेबल की दिन-दहाड़े हत्या कर दी. इस घटना से पता चलता है कि प्रदेश में अपराधी किस कदर बेखौफ हो चुके है. 

भारद्वाज ने कहा कि एक तरफ तो पुलिस पर हमले हो रहे है और दूसरी तरफ सरदारशहर में पुलिस कस्टडी में पुलिस की मारपीट से एक बेकसूर आदमी की जान चली जाती है, उसी थाने में मृतक की भाभी के साथ मारपीट कर पुलिसकर्मियों के द्वारा बलात्कार किया जाता है. इससे पहले भी चूरू जिले में ही पिछले 6 महीनों में 2 लोगों की पुलिस कस्टडी में मौत हो चुकी है. थानों में ही पुलिसकर्मी अपराधियों की तरह व्यवहार कर रहे है. 

भारद्वाज ने कहा कि सरकार का कानून व्यवस्था पर नियंत्रण नहीं रहा, जिसकी वजह से प्रदेश को शर्मसार करने वाली ऐसी घटनाएं हो रही है, जिसको देखने का राजस्थान आदि नहीं है. पुलिसकर्मी बजरी माफियाओं के साथ मिलकर वसूली में लगे है और बेलगाम हो चुके अपराधी अपराध करने में. दुर्भाग्य है कि खुद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जिस विभाग के मंत्री है, उसकी ही ये दशा है तो बाकी विभागों का क्या होगा.

भारद्वाज ने कहा कि कानून व्यवस्था सरकार की प्राथमिकता में ही शामिल नहीं है, जिसकी वजह से प्रदेश में अपराध बढ़ रहे है, छोटी बच्चियों के साथ होने वाले दुष्कर्म की घटनाएं बेतहाशा बढ़ रही है, हत्या और लूट जैसी संगीन वारदात आम हो रही है. 

पीड़ितों को न्याय मिलना तो दूर, इस सरकार के राज में थानों में पीड़ितों को ही प्रताड़ित किया जा रहा है. भाजपा सरकार से मांग करती है कि हैडकान्स्टेबल के हत्यारों को तुरन्त प्रभाव से गिरफ्तार किया जाए और सरदारशहर में थाने में मौत और मृतक की भाभी को प्रताड़ित करने वाले दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाए.