कड़ाके की ठंड से कांपा चित्तौड़गढ़, 1.9 डिग्री पर पहुंचा तापमान

दिन की शुरूआत कोहरे के आगोश में हुई, जिसके चलते दोपहर बाद भी सूरज देवता के दर्शन नहीं होने से लोग ठिठुरते नजर आए.

कड़ाके की ठंड से कांपा चित्तौड़गढ़, 1.9 डिग्री पर पहुंचा तापमान
मंगलवार को शीतलहर और कड़ाके की ठंड से लोग बचाव का जतन करते नजर आए.

दीपक व्यास, चित्तौड़गढ़: पिछले एक सप्ताह से तापमान में लगातार आ रही गिरावट के चलते कड़कड़ाती ठंड से इन दिनों जनजीवन प्रभावित हो रहा है. दो दिन पूर्व रात के तापमान में अचानक आई गिरावट से जहां पारा 1.9 डिग्री पर पहुंच गया, वहीं दिन का तापमान 22 डिग्री और रात्रि का 3 डिग्री रहा.

मंगलवार को शीतलहर और कड़ाके की ठंड से लोग बचाव का जतन करते नजर आए. आज के दिन की शुरूआत कोहरे के आगोश में हुई, जिसके चलते दोपहर बाद भी सूरज देवता के दर्शन नहीं होने से लोग ठिठुरते नजर आए. सर्दी के सितम से जनजीवन खासा प्रभावित रहा, जिसके चलते लोग अलाव का सहारा लेने अथवा घरों में दुबक जाने को विवश थे.

लगातार बढ़ रही सर्दी के कारण मौसमी बीमारियों क प्रकोप भी बढ़ने लगा है, जिसके फलस्वरूप चिकित्सा संस्थानों में सर्दी, खांसी, जुखाम और बुखार के रोगियों की संख्या में वृद्धि हो रही है. दूसरी ओर रबी की फसल की सुरक्षा के लिए किसानों को कड़कड़ाती सर्दी से जूझना पड़ रहा है, वहीं काले सोने के रूप में विख्यात अफीम की खेती की सुरक्षा के लिए भी ठिठुरन भरी सर्दी में किसानों को खेतों का पहरा देना पड़ रहा है.