सवाई माधोपुर में पलटी श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली, 2 की मौत, 29 घायल

कोविड संक्रमण को लेकर जिला प्रशासन ने अधिकार से मंदिरों पर लगने वाले मेले को स्थगित कर रखा है. 

सवाई माधोपुर में पलटी श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली, 2 की मौत, 29 घायल
प्रतीकात्मक तस्वीर.

अरविंद सिंह चौहान, सवाई माधोपुर: जिले के चौथ का बरवाड़ा में श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली पलटने से दो लोगों की मौत हो गई जबकि 29 लोग घायल हो गए. ट्रैक्टर-ट्रॉली के अनियंत्रित होकर पलटने से श्रद्धालु ट्रैक्टर-ट्रॉली के नीचे दब गए. उनकी चीख-पुकार से कोहराम मच गया.

साथ में आ रहे अन्य ट्रैक्टर-ट्रॉली में बैठे लोगों ने स्थानीय लोगों के सहयोग से आनन-फानन में घायलों को मौके से उठाकर समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चौथ का बरवाड़ा में भर्ती करवाया. सूचना के साथ ही चौथ का बरवाड़ा थाना पुलिस मौके पर पहुंची, वहीं, एसडीएम दामोदर सिंह भी मौके पर पहुंचे और घायलों की उचित देख-रेख के निर्देश दिए.

यह भी पढ़ें- अलवर: आधा दर्जन युवकों ने लाठी डंडे से मां-बेटे पर किया हमला, दोनों गंभीर रूप से घायल

एक्सीडेंट की सूचना मिलने के साथ ही मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. तेजराम मीणा ने भी सवाई माधोपुर से चौथ का बरवाड़ा पहुंचकर घायलों को दी जा रही व्यवस्थाओं का जायजा लिया. प्राथमिक चिकित्सा के बाद सभी 29 घायलों को जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया, जिनमें 15 लोग गंभीर घायल बताए जा रहे हैं जबकि चिकित्सकों ने 2 लोगों को मृत घोषित कर दिया. उनके शव को चौथ का बरवाड़ा मोर्चरी में शिफ्ट करा दिया गया.

गंभीर घायलों के जिला अस्पताल पहुंचते ही जिला कलेक्टर नन्नू मल पहाड़िया भी जिला अस्पताल पहुंच गए. उन्होंने घायलों को नि:शुल्क इलाज करने एवं हर संभव सुविधा सुविधा मुहैया कराने के निर्देश दिए. मौके पर जिला प्रशासन की ओर से एसडीएम कपिल शर्मा जिला अस्पताल में ही डटे हुए हैं. लगातार घायलों को दी जा रही व्यवस्थाओं का जायजा ले रहे हैं और पूरी स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं.

घायलों ने बताई हादसे की वजह
घायलों ने बताया कि बड़ागांव अंता निवासी सभी श्रद्धालु चौथ माता मंदिर में रसोई के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आ रहे थे. आज पहला नवरात्र होने के साथ ही सभी लोग माता के दरबार में हाजिरी लगाकर रसोई का कार्यक्रम करने के लिए बड़ागांव अंता जिला बारां से रवाना हुए थे. चौथ का बरवाड़ा कस्बे के नजदीक ही चौरू रोड पर अचानक ट्रैक्टर-ट्रॉली पलटने से हादसा हो गया. घायलों ने बताया कि गांव से तीन ट्रैक्टर-ट्रॉली में सवार होकर लगभग 100 से अधिक लोग माताजी के जा रहे थे. एक ट्रैक्टर-ट्रॉली में केवल महिलाएं सवार थी जबकि दूसरी में पुरुष और बच्चे सवार थे, वहीं, तीसरी ट्रैक्टर-ट्रॉली में अन्य लोग रिश्तेदार आदि सवार थे, जो ट्रैक्टर-ट्रॉली आगे चल रही थी. हादसे में एक किशोर और एक युवक की मौत हो गई जबकि 29 लोगों का जिला अस्पताल में इलाज किया जा रहा है. वही दो लोग अधिक गंभीर होने के चलते उनको जयपुर रेफर किया जा रहा है.

आस्था कोरोना वायरस पर भारी पड़ रही 
कोविड संक्रमण को लेकर जिला प्रशासन ने अधिकार से मंदिरों पर लगने वाले मेले को स्थगित कर रखा है. लगातार जन जागरण कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं लेकिन आस्था कोरोना वायरस पर भारी पड़ रही है, जिसके चलते अधिकांश मंदिरों में भारी भीड़ देखने को मिल रही है. चौथ माता मंदिर की बात करें तो हजारों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचे श्रद्धालुओं की श्रद्धा और भक्ति अनुसार तरह-तरह के रसोई जागरण हुआ पावरी जैसे कार्यक्रम भी किए जा रहे हैं. ऐसे ही कार्यक्रम में होने के लिए सभी घायल चौथ का बरवाड़ा माताजी के आ रहे थे. फिलहाल मृतकों के शवों का पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया है, वहीं, 27 लोगों का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है जबकि दो गंभीर को जयपुर के लिए रेफर किया गया है.