बंजारा समाज के धर्मगुरु संत रामराव महाराज का निधन, भक्तों में शोक की लहर

बंजारा समाज के शीर्ष धर्मगुरु संत रामराव महाराज का निधन हो गया है. उन्होंने मुंबई के लीलावती अस्पताल (Leelavati Hospital) में अपनी आखिरी सांसें ली.

बंजारा समाज के धर्मगुरु संत रामराव महाराज का निधन, भक्तों में शोक की लहर
संत रामराव महाराज/फाइल फोटो

मुंबई: बंजारा समाज के शीर्ष धर्मगुरु संत रामराव महाराज का निधन हो गया है. उन्होंने मुंबई के लीलावती अस्पताल (Leelavati Hospital) में अपनी आखिरी सांसें ली. संत रामराव महाराज (Sant Ramrao Maharaj) की उम्र 89 साल थी. संत रामराव महाराज बढ़ती उम्र संबंधी परेशानियों की वजह से लीलावती अस्पताल में भर्ती थे. कई दिनों से उनका इलाज चल रहा था. रामराज महाराज देशभर में बंजारा समाज के प्रमुख संत थे. पूरे देश भर में महाराज के 12 करोड़ से ज्यादा अनुयायी थे.

पोहरादेवी तीर्थस्थल में अंतिम संस्कार
महाराज के भक्तों के मुताबिक, बंजारा समाज के लिए काशी माने जाने वाले पोहरादेवी (Pohradevi) तीर्थ स्थल में उनका अंतिम संस्कार होगा. पोहरादेवी तीर्थ स्थल महाराष्ट्र के वाशिम (Washim District) जिले में है. जहां सोमवार को पूरे विधि विधान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा.

पीएम मोदी ने लिया था आशीर्वाद
संत रामराव महाराज बंजारा समाज के 12 करोड़ लोगों के निर्विवादित तौर पर शीर्ष धर्मगुरु माने जाते थे. इसीलिए राजनीतिक गलियारों में भी उनका प्रभाव था. हालांकि वो कभी राजनीति से सीधे तौर पर तो नहीं जुड़े, लेकिन उनसे शीर्ष राजनेता आशीर्वाद लेने जरूर पहुंचते रहे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस जैसे नेता भी संत रामराव महाराज से आशीर्वाद ले चुके हैं.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.