पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार

परिजनों और रिश्तेदारों ने कोविड-19 से बचाव के दिशा-निर्देशों के अनुरूप पीपीई किट में मुखर्जी को अंतिम विदाई दी.

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार

नई दिल्ली: पूर्व राष्ट्रपति व भारत रत्न प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee) का मंगलवार दोपहर को दिल्ली के लोधी रोड विद्युत शव दाह गृह में पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया. उनके बेटे ने अंतिम संस्कार किया. परिजनों और रिश्तेदारों ने कोविड-19 से बचाव के दिशा-निर्देशों के अनुरूप पीपीई किट में मुखर्जी को अंतिम विदाई दी. सेना की टुकड़ी ने पूर्व राष्ट्रपति को तोपों की सलामी दी.

बता दें कि देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कल 31 अगस्त को निधन हो गया. प्रणब मुखर्जी 84 साल के थे. पूर्व राष्ट्रपति के बेटे अभि‍जीत मुखर्जी ने ट्वीट कर उनके निधन की जानकारी दी थी. प्रणब मुखर्जी दिल्ली में सेना के अस्पताल में भर्ती थे. यहां उन्हें 10 अगस्त को भर्ती कराया गया था. सोमवार 31 अगस्त को दिन में अचानक उनकी तबीयत बिगड़ने लगी. उन्हें लगातार वेंटिलेटर पर रखा गया था. देश के सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से सम्मानित प्रणब मुखर्जी के निधन पर पूरे देश में शोक की लहर है. 

ये भी पढ़ें:- PHOTOS: अनंत यात्रा पर निकले प्रणब मुखर्जी, लोगों ने इन तस्वीरों के जरिए किया याद

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सात दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने प्रणब मुखर्जी को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि उनका जाना एक युग की समाप्ति है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि प्रणब मुखर्जी का जाना मेरे लिए निजी क्षति है. प्रधानमंत्री ने प्रणब मुखर्जी के साथ अपनी कई तस्वीरें भी ट्वीट की हैं. प्रणब दादा का जन्म 11 दिसंबर 1935 को पश्चिम बंगाल के मिरिटी गांव में हुआ था.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.