close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रामपुर तिराहा गोलीकांड की 25वीं बरसी आज, CM त्रिवेंद्र ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि

Trivendra Singh Rawat: सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा, शहीदों के बदौलत ही उत्तराखंड पर्वतीय राज्य के तौर पर जाना जा रहा है. उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य आंदोलनकारियों के सपनों को साकार करने के लिए हर संभव काम कर रही है.

रामपुर तिराहा गोलीकांड की 25वीं बरसी आज, CM त्रिवेंद्र ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि
शहीदों को श्रद्धांजलि देते सीएम त्रिवेंद्र.

देहरादून: देहरादून (Dehradun) में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत (Trivendra Singh Rawat) ने रामपुर तिराहा कांड (Rampur Tiraha Kand) के शहीदों को श्रद्धांजलि दी. इस मौके पर बीजेपी (BJP) के कई विधायक मौजूद रहे. दरअसल, मुजफ्फरनगर (Muzaffarnagar) के रामपुर तिराहा गोलीकांड की आज 25वीं बरसी है. मुजफ्फरनगर के रामपुर तिराहे गोलीकांड में 7 राज्यों के आंदोलनकारी शहीद हो गए थे. 

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा, शहीदों के बदौलत ही उत्तराखंड पर्वतीय राज्य के तौर पर जाना जा रहा है. उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य आंदोलनकारियों के सपनों को साकार करने के लिए हर संभव काम कर रही है.

आपको बता दें कि अलग राज्य की मांग को लेकर पर्वतीय क्षेत्रों के लोगों ने आंदोलन शुरू किया था. इसके लिए 1 अक्टूबर साल 1994 की रात को दिल्ली की तरफ कूच कर रहे सैकड़ों आंदोलनकारियों को तत्कालीन मुलायम सिंह यादव की सरकार में प्रशासन ने रामपुर तिराहा पर रोक लिया था.

इसके बाद आंदोलनकारियों पर बर्बरता की गई. आंदोलनकारियों पर गोली चलाई गई. इस गोलीकांड में 7 आंदोलनकारियों की मौत हो गयी, जबकि 15 से ज्यादा घायल हुए थे.  इस दौरान लापता हुए तीन लोगों को भी शहीद का दर्जा दिया गया. 

लाइव टीवी देखें

पुलिसकर्मियों पर महिलाओं से दुष्कर्म के आरोप भी लगे. मामले को लेकर कई केस न्यायालय में विचाराधीन हैं. रामपुर तिराहे पर शहीदों की याद में स्मारक बनाया गया. यहां हर साल दो अक्टूबर को श्रद्धांजलि कार्यक्रम होता है.