अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना को एक साल पूरा, CM ने गिनाई उपलब्धियां

CM रावत ने बताया कि योजना के तहत राज्य में अब तक 1 लाख 10 हजार मरीजों का निशुल्क उपचार किया जा चुका है. जिसमें 104.86 करोड रुपए का खर्च आया.  

अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना को एक साल पूरा, CM ने गिनाई उपलब्धियां
अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना को एक साल पूरा

देहरादून: पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी (Former PM Atal Bihari Vajpayee) की जयंती के अवसर पर पिछले साल शुरु हुई अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना (Atal Ayushman Uttarakhand Scheme) को आज 1 साल पूरा हो गया है.

अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना के 1 साल पूरा होने पर मुख्यमंत्री आवास में कार्यक्रम आयोजित किया गया. इस दौरान सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत (CM Trivendra Singh Rawat) ने योजना की 1 साल की उपलब्धियों को भी सामने रखा.

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने बताया कि योजना के तहत राज्य में 1 साल के वक्त में 1 लाख 10 हजार मरीजों का निशुल्क उपचार किया जा चुका है. जिसमें 104.86 करोड रुपए का खर्च आया.

आंकड़ों को सामने रखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि अभी तक ये योजना 12 हजार से अधिक लाभार्थियों के लिए जीवनदायिनी साबित हुई है. अटल आयुष्मान योजना के तहत ब्रेन ट्यूमर, कैंसर, गुर्दा रोग, बाइपास सर्जरी, न्यूरो जैसी बीमारियों के मरीजों को फायदा हुआ है. राज्य सरकार की कोशिश है कि राज्य की पूरी जनता को इस योजना का लाभ मिले. इसके लिए गोल्डन कार्ड बनाए जाने की प्रक्रिया भी चल रही है. लेकिन, अभी इसमें तेजी लाने की जरूरत है. विभाग ने बताया कि मौजूदा वक्त में तकरीबन 35 लाख लोगों के गोल्डन कार्ड बन चुके हैं और अभी लक्ष्य काफी दूर है.

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपने संबोधन में कहा कि सरकार की कोशिश है कि पहाड़ के दूरदराज के क्षेत्रों और उन गांव तक भी पहुंचे, जहां इसकी जरूरत ज्यादा है. उन्होंने इस संबंध में अधिकारियों को जरूरी दिशा-निर्देश भी दिए.