close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गोरखपुर में कैबिनेट ने दी 182 करोड़ की लागत से प्राणी उद्यान बनाने की मंजूरी

कैबिनेट की बैठक में छह प्रस्तावों को स्वीकृति दी गई है, जिसमें गोरखपुर में प्राणी उद्यान की स्थापना का प्रस्ताव भी शामिल है. प्राणी उद्यान की स्थापना पर 181.82 करोड़ रुपये की लागत आने का अनुमान है.

गोरखपुर में कैबिनेट ने दी 182 करोड़ की लागत से प्राणी उद्यान बनाने की मंजूरी
इसे अशफाकउल्ला प्राणी उद्यान के नाम से जाना जायेगा.

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई कैबिनेट की बैठक में छह प्रस्तावों को स्वीकृति दी गई है, जिसमें गोरखपुर में प्राणी उद्यान की स्थापना का प्रस्ताव भी शामिल है. प्राणी उद्यान की स्थापना पर 181.82 करोड़ रुपये की लागत आने का अनुमान है. इसे अशफाकउल्ला प्राणी उद्यान के नाम से जाना जायेगा.

प्रदेश सरकार के प्रवक्ता डॉ. सिद्धार्थनाथ सिंह और श्रीकांत शर्मा ने संवाददाताओं को बताया कि कैबिनेट में उत्तरप्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र 18 जुलाई से बुलाए जाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई.इसके अलावा कैबिनेट की बैठक में, वृक्षारोपण अभियान के लिए निःशुल्क पौधे देने का प्रस्ताव पास हुआ है. इस अभियान के तहत इस वर्ष 15 अगस्त को 22 करोड़ पौधे लगाए जाने का प्रावधान है.

बैठक के दौरान गोरखपुर में महंत अवैद्यनाथ महाविद्यालय के लिए 30.34 करोड़ रुपये के कार्यों को मंजूरी दी गई है. कैबिनेट में अम्ब्रेला एक्ट के लिए मंजूरी दी गई है. उत्तर प्रदेश में 27 निजी विश्वविद्यालय है. अम्ब्रेला एक्ट के माध्यम से सभी को एक साथ चलाया जाएगा. उत्तर प्रदेश निजी विश्वविद्यालय अध्यादेश 2019 पारित किया जा चुका है.

बैठक के दौरान उत्तर प्रदेश शिक्षा सेवा अधिकरण की स्थापना किए जाने का प्रस्ताव मंजूर किया गया है ताकि शिक्षा संबंधी विवादों को सुलझाया जा सके. इसमें एक अध्यक्ष, एक उपाध्यक्ष और कुछ सदस्य नियुक्त किए जाने का प्रावधान होगा. इस अधिकरण की स्थापना के बावजूद लोगों के पास अदालत जाने का विकल्प होगा और याची 90 दिन के अंदर अदालत जा सकेंगे.