close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अहमदाबाद : दो लिंग के साथ जन्मे बच्चे का सफल ऑपरेशन, देश का दूसरा दुर्लभ मामला

 मेडिकल साइंस के अनेक अजीब किस्से देखने को मिलते हैं जबकि कितने दुर्लभ किस्से आम आदमी समेत डॉक्टरों को भी चौंका देते हैं. 

अहमदाबाद : दो लिंग के साथ जन्मे बच्चे का सफल ऑपरेशन, देश का दूसरा दुर्लभ मामला

अहमदाबाद: मेडिकल साइंस के अनेक अजीब किस्से देखने को मिलते हैं जबकि कितने दुर्लभ किस्से आम आदमी समेत डॉक्टरों को भी चौंका देते हैं. अहमदाबाद की सिविल अस्पाताम में दो ऐसे ही दुर्लभ किस्सा सामने आया है. पहले किस्से की बात करें तीन महीने के बच्चे को जनम से ही दो लिंग थे. जन्म से दो लिंग होने का पूरे देश में ये दूसरा दुर्लभ मामला है. गुजरात का ये पहला मामला है. 

डॉक्टरों के लिए मासूम का एक लिंग दूर करना और उसके निचले हिस्से में गांठ को दूरकर सामान्य जीवन देना बड़ा चुनौतीपूर्ण काम था. सिविल अस्पताल में मासूम की कामयाब सर्जरी की गई और बच्चे का दूसरा लिंग को दूर किया गया.

बाल आरोग्य विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. जयश्री रामजी ने ऐतिहासिक सर्जरी को कामयाबी से पूर्ण किया. रिपोर्ट के अनुसार, विश्व में इस प्रकार के अब तक 30 मामले दर्ज किए गए हैं. भारत में इस प्रकार का दूसरा दुर्लभ मामला है. इससे पहले, ऐसा ही एक किस्सा चेन्नई में दर्ज किया गया था. सिविल हॉस्पिटल द्वारा ऐसी सर्जरी पहली बार की गई है. 

दूसरे मामले में एक 18 महीने की बच्ची ने अनजाने में बैटरी निगल ली थी जिससे बैटरी बच्ची की आंत में फस गई थी. बाल-आरोग्य विभाग द्वारा सर्जरी कर बच्ची को नया जीवनदान दिया है. बाल-आरोग्य विभाग के डॉक्टर राकेश जोशी द्वारा घंटो की मशक्कत के बाद सर्जरी कामयाब रही.

सिविल अस्पताल के बाल आरोग्य विभाग द्वारा कामयाब सर्जरी की गई और दोनों मासूम बच्चो को नया जीवनदान दिया गया. सिविल अस्पताल के बाल आरोग्य विभाग की ये कामयाब सर्जरी से दोनों बच्चे सामान्य स्वस्थ इंसान की तरह अपना जीवन जी पाएंगे और अपने परिवार की आकांशा, अपेक्षाओं को भी पूरा कर पाएंगे.