80 साल के फक्कड़ बाबा, लड़ रहे हैं जिंदगी का 17वां चुनाव, राम मंदिर बने यही जीवन का मकसद

अस्सी वर्ष की वय के फक्कड़ बाबा मथुरा के श्रीकृष्ण जन्मस्थान के समीप गोविंद नगर में स्थित गर्तेश्वर महादेव मंदिर में डेरा डाले रहते हैं. 

80 साल के फक्कड़ बाबा, लड़ रहे हैं जिंदगी का 17वां चुनाव, राम मंदिर बने यही जीवन का मकसद
फोटो साभारः ANI

मथुरा: उत्तर प्रदेश के मथुरा से 17वीं लोकसभा के लिए चुनाव लड़ रहे 13 प्रत्याशियों में से एक फक्कड़ बाबा रामायणी इस बार जीवन का 17वां चुनाव लड़ रहे हैं. इससे पूर्व वह 1977 से अब तक 8 बार लोकसभा व इतनी ही बार विधानसभा चुनाव लड़ चुके हैं. हर बार की तरह इस बार भी फक्कड़ बाबा ने नामांकन प्रक्रिया प्रारम्भ होने के पहले ही दिन पर्चा दाखिल किया. धर्मप्रेमी लोगों के यहां भजन-कीर्तन व रामायण पाठ कर जीवन यापन करने वाले फक्कड़ बाबा की इच्छा है कि अयोध्या में जल्द से जल्द राम मंदिर का निर्माण हो.

वह लोगों को मंदिर निर्माण के लिए प्रेरित करने के लिए चुनाव प्रचार को अपना माध्यम बनाते हैं. अस्सी वर्ष की वय के फक्कड़ बाबा मथुरा के श्रीकृष्ण जन्मस्थान के समीप गोविंद नगर में स्थित गर्तेश्वर महादेव मंदिर में डेरा डाले रहते हैं. हर चुनाव के लिए वे जमानत राशि तथा अपेक्षित समर्थक भी उन्हीं में से जुटाते हैं.

वैसे देखा जाए तो मथुरा में इस बार का चुनाव त्रिकोणीय होने के आसार बन रहे हैं. नाम वापसी से एक दिन पूर्व तक यहां भाजपा से हेमा मालिनी, कांग्रेस से महेश पाठक तथा सपा-बसपा गठबंधन समर्थित राष्ट्रीय लोकदल प्रत्याशी कुंवर नरेंद्र सिंह सहित कुल 13 प्रत्याशी मैदान में बचे हैं.