बेटी के 'प्रेमी' की शिकायत लेकर थाने पहुंचे थे घरवाले, 'दामाद' बनाकर वापस आए

जब लड़की के घरवालों को इसकी जानकारी लगी तो उन्होंने मामले को बिधूना कोतवाली तक पहुंचा दिया. 

बेटी के 'प्रेमी' की शिकायत लेकर थाने पहुंचे थे घरवाले, 'दामाद' बनाकर वापस आए
थाने से शादी कर निकला प्रेमी जोड़ा

औरैया: जिले की बिधून कोतवाली में एक परिवार अपनी बेटी के प्रेमी की शिकायत लेकर थाने पहुंचा था, लेकिन जब वहां से वापसी हुई तो वही प्रेमी घर का दामाद बन चुका था. ये सब कुछ मुमकिन हुआ पुलिस और शहर के कुछ संभ्रांत लोगों की मदद से, जिन्होंने दोनों परिवारों को जाति-बंधन से इतर बच्चों की खुशी में खुश होने के लिए समझाया. 

प्यार की खबर घरवालों को लगी तो पहुंचे थाने 
मामला बिधूना कोतवाली के भाईपुर और सूरजपुर के दो प्रेमियों का है. भाईपुर की रहने वाली लड़की का प्रेम-प्रसंग सूरजपुर के एक लड़के से चल रहा था. जब लड़की के घरवालों को इसकी जानकारी लगी तो उन्होंने मामले को बिधूना कोतवाली तक पहुंचा दिया. हालांकि बाद में इलाके कुछ संभ्रांत लोगों ने कोतवाली में ही बैठकर दोनों परिवारों को समझाया, तब जाकर वे इस शादी के लिए माने. 

थानेदार ने खूब बंटवाई मिठाई, भड़क गए दरोगा पर, जब बिल की बारी आई 

कोतवाली में ही हो गई शादी 
पुलिस और सभी लोगों के समझाने के बाद जब दोनों परिवार शादी के लिए राजी हुए तो कोतवाली के अंदर ही प्रेमी जोड़े ने एक दूसरे को वरमाला पहनाई और जीवन भर साथ निभाने का वादा किया. शादी से खुश लड़का-लड़की ने बताया कि वे अपनी मर्जी से शादी कर रहे हैं. 

अंतरजातीय विवाह नहीं करना चाहते थे परिवार 
दोनों प्रेमियों की जातियां अलग होने की वजह से घरवाले उनके रिश्ते के लिए राजी नहीं थे. हालांकि समझाने-बुझाने के बाद परिवार वालों ने आखिरकार कहा कि जिसमें बच्चों की खुशी होती है, उसी में हम भी खुश हैं. इसके लिए जाति बंधन का कोई महत्व नहीं. पहले परिवार वाले लड़की के वाथम और लड़के शाक्य होने की वजह से शादी के लिए तैयार नहीं थे. 

देवभूमि के इस गांव में मिला था स्वामी विवेकानंद को ज्ञान, जानिए कहां पर है ये जगह

VIDEO: मामूली विवाद को लेकर दो पक्षों में मारपीट, जमकर चले लात-घूंसे, जूते और चप्पल

watch live tv