close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विपक्ष पर फिर गरजे अमित शाह, कहा- 'SP-BSP सरकार में चरमरा गया था UP का प्रशासनिक ढांचा'

उन्होंने कहा कि आजादी के बाद पहली बार किसानों की आय दोगुना करने वाला प्रधानमंत्री देश को मिला है. 

विपक्ष पर फिर गरजे अमित शाह, कहा- 'SP-BSP सरकार में चरमरा गया था UP का प्रशासनिक ढांचा'
फोटो सौजन्य: @AmitShah

लखनऊ: बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को कहा कि उत्तर प्रदेश का प्रशासनिक ढांचा सपा-बसपा सरकार में चरमरा गया था और अब वह बीजेपी सरकार के समय में तेजी से मजबूत हो रहा है. शाह ने यहां सहकारिता सम्मेलन में कहा कि उत्तर प्रदेश का प्रशासनिक ढांचा सपा-बसपा सरकार में चरमरा गया था, आज योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में यहां का प्रशासनिक और राजनीतिक ढांचा तेजी से मजबूत हो रहा है. उन्होंने कहा कि आजादी के बाद पहली बार किसानों की आय दोगुना करने वाला प्रधानमंत्री देश को मिला है. हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2022 तक इसका लक्ष्य रखा है. 

शाह ने कहा कि सोनिया-मनमोहन की सरकार के समय सहकारिता के माध्यम से किसानों को मात्र 23, 635 करोड़ रुपये दिए थे, लेकिन मोदी सरकार द्वारा सहकारिता के माध्यम से 73,51 करोड़ रुपये की धनराशि वितरित की गई. बीजेपी की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि ये परिवर्तन जो आया है वो बीजेपी की वजह से आया है. सोनिया-मनमोहन की सरकार में देश की अर्थव्यवथा 9वे नंबर पर थी. बीजेपी के शासन काल में ये छठे नंबर पर पहुंच गई है. 

राहुल गांधी पर निशाना सादते हुए उन्होंने कहा कि राहुल बाबा कहते है कि किसानों का कर्ज माफ करो. हमने तो उत्तर प्रदेश में कर दिया. लेकिन, कांग्रेस ने कुछ नहीं किया. उन्होंने कहा कि सहकारिता समितियों के माध्यम से किसानों को ज्यादा दाम दिलाने का काम नरेंद्र मोदी सरकार कर रही है.इस दौरान उन्होंने सपा और बसपा पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि सपा और बसपा दोनों के काल में सहकारिता को दीमक लग गई थी. इसको पुन: जीवित करने का काम हम करेंगे. 

उन्होंने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में एक बार फिर से मोदी सरकार को लाना है. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में 74 सीट के आंकड़े को पर करना होगा और एक बार फिर नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाना होगा.