close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

देश के सबसे बड़े हवाई अड्डे की तैयारी शुरू, नोएडा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट में बनेंगे 6 रनवे

 नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे को कुल चार चरणों में बनाया जाएगा. जिसके पहले चरण में 4086 करोड़ रुपए खर्च कर 2023 तक दो रनवे का हवाई अड्डा बना लिया जाएगा.

देश के सबसे बड़े हवाई अड्डे की तैयारी शुरू, नोएडा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट में बनेंगे 6 रनवे
नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड जेवर के सीईओ अरुणवीर सिंह ने गुरुवार को निर्माण कार्य के लिए ग्लोबल टेंडर जारी किया.

नोएडा: जेवर ग्रीन फील्ड अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का निर्माण कार्य जनवरी या फरवरी 2020 से शुरू कर दिया जाएगा. इस हवाई अड्डे से पहली उड़ान 2023 में शुरू होने की उम्मीद है. नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के निर्माण के लिए बनाई गई नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड जेवर (एनआईएएल) की तरफ से गुरुवार को ग्लोबल बिड भी जारी कर दी गई. इस बिड से 29 नवंबर 2019 को निर्माण कार्य करने वाली कंपनी का चयन कर लिया जाएगा. इस हवाई अड्डे की शुरुआत वाले साल में ही 50 लाख यात्रियों के आने की उम्मीद है.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड जेवर के सीईओ अरुणवीर सिंह ने गुरुवार को निर्माण कार्य के लिए ग्लोबल टेंडर जारी किया. उन्होंने बताया कि इस एयरपोर्ट प्रोजेक्ट की कुल अनुमानित लागत 15754 करोड़ रुपए होगी. उन्होंने बताया कि नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट को छह रनवे का बनाए जाने के लिए उत्तर प्रदेश मंत्रिपरिषद से मंजूरी मिली है. हालांकि, इसे पहले दो रनवे का ही बनाने पर सहमति मिली थी. लेकिन इस नई मंजूरी के बाद यह देश का पहला सबसे बड़ा हवाई अड्डा होगा. अभी छह लेन से ज्यादा के हवाई अड्डे दुनिया के कुछ ही देशों में हैं. 

 

उन्होंने बताया कि इस हवाई अड्डे को कुल चार चरणों में बनाया जाएगा. जिसके पहले चरण में 4086 करोड़ रुपए खर्च कर 2023 तक दो रनवे का हवाई अड्डा बना लिया जाएगा. इसके बाद 2030 तक दूसरा, 2035 तक तीसरा और 2039 तक चौथे चरण को पूरा कर लिया जाएगा.