Kanpur shootout: शहीद CO के पत्र से उठे कई सवाल, अब तत्कालीन SSP पर कार्रवाई की मांग

IPS अमिताभ ने चौबेपुर के थानाध्यक्ष विनय तिवारी पर कार्रवाई ना करने को तत्कालीन SSP अनंत देव की बड़ी लापरवाही बताया है.

Kanpur shootout: शहीद CO के पत्र से उठे कई सवाल, अब तत्कालीन SSP पर कार्रवाई की मांग

लखनऊ: कानपुर कांड में शहीद सीओ देवेंद्र मिश्र का तत्कालीन SSP को लिखा पत्र सामने आने के बाद कई सवाल उठने लगे हैं. पूछा जा रहा है कि आखिर तत्कालीन SSP अनंत देव ने निलंबित थानाध्यक्ष विनय तिवारी के खिलाफ शिकायत के बावजूद कार्रवाई क्यों नहीं की. वहीं, IPS अमिताभ ठाकुर ने डीजीपी एचसी अवस्थी को पत्र लिखकर कानपुर के तत्कालीन SSP अनंत देव पर कार्रवाई की मांग की है.

IPS अमिताभ ने चौबेपुर के थानाध्यक्ष विनय तिवारी पर कार्रवाई ना करने को तत्कालीन SSP अनंत देव की बड़ी लापरवाही बताया है. अमिताभ ठाकुर ने शहीद सीओ के पत्र को आधार बनाते हुए कहा है कि बिल्हौर सीओ देवेंद्र मिश्र ने एसएसपी को बताया था कि विनय तिवारी का हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के पास आना-जाना है.

साथ ही SSP कानपुर को जानकारी दी गई थी कि देवेंद्र मिश्र ने 13 मार्च को थाना चौबेपुर में अभियुक्त विकास दुबे व अन्य के खिलाफ धारा 386, 147, 148, 323, 504, 506 आईपीसी के विवेचक अजहर इशरत ने धारा 386 आईपीसी को कतिपय बेबुनियाद आधारों पर हटा दिया था. देवेंद्र मिश्र द्वारा पूछताछ करने पर विवेचक ने बताया था कि थानाध्यक्ष विनय तिवारी के कहने पर ऐसा किया. देवेंद्र मिश्रा ने एसएसपी को इस पर कार्रवाई की संस्तुति की थी.

IPS अमिताभ ने कहा कि इस पत्र के बावजूद अनंत देव ने कोई कार्रवाई नहीं की जो घोर प्रशासनिक कदाचार है और वो भी इस जघन्य घटना के लिए सीधे तौर पर उत्तरदायी हैं. जिसके बाद उन्होंने डीजीपी से शहीद सीओ के पत्र में अंकित तथ्यों की जांच कराते हुए कार्रवाई करने का अनुरोध किया है.