इस्लाम धर्म कबूल करो या फिर मोहल्ला छोड़ो, दहशत के साए में घर छोड़ने को मजबूर कई हिंदू परिवार

पीड़ितों का कहना है कि मोहल्ले के दबंग उनसे दो ही बात करते थे या तो जबरन इस्लाम धर्म कबूल कर लो या फिर मोहल्ला छोड़ दो. वह जबरन दूसरे धर्म को नहीं अपनाएंगे इसलिए उन्होंने मोहल्ला छोड़ने का फैसला लिया है.

इस्लाम धर्म कबूल करो या फिर मोहल्ला छोड़ो, दहशत के साए में घर छोड़ने को मजबूर कई हिंदू परिवार

कानपुर: कर्नलगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत रेल पटरी इलाके में 10 हिंदू परिवार दहशत के साए में जी रहे हैं. यहां के निवासियों का कहना है कि उनको दंबगों द्वारा परेशान किया जा रहा है, उनको जबरन धर्म परिवर्तन के लिए कहा जा रहा है. पीड़ित परिजनों का कहना है कि, आरोपी बेल पर छूट कर घर आ रहे हैं परिजनों को जान का खतरा है हमारी सुरक्षा कौन करेगा.

माहौल खराब करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी
धर्मान्तरण न करने पर पलायन के दबाव मामले पर पुलिस कमिश्नर असीम अरुण का बयान सामने आया है. असीम अरुण ने कहा है कि धमकी मिलने के मामले में एफआईआर दर्ज की जा रही है. माहौल खराब करने वालों के खिलाफ गैंगस्टर और NSA के तहत कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने कहा कि कानपुर का कोई भी नागरिक जहां चाहे वहां रहने के लिए स्वतंत्र है. पुलिस कमिश्ननर ने डीसीपी वेस्ट संजीव त्यागी को जांच के लिए भेजा है.

 

नोएडा कमिश्नरेट में बनेंगे 10 नए पुलिस स्टेशन और दो चौकी, कानून-व्यवस्था को मिलेगी मजबूती

ये है पूरा मामला
कर्नलगंज थाना क्षेत्र के रेल पटरी इलाके में शनिवार को छेड़छाड़ का मामला सामने आया था. जहां पर एक परिवार की बेटी को मोहल्ले के दबंगों ने छेड़छाड़ की थी और भाइयों द्वारा मना करने पर घर में घुसकर मारपीट और दुष्कर्म का प्रयास भी किया गया था. पुलिस ने 9 नामजद और 3 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा भी लिखा था. तीन लोगों को पुलिस ने पकड़ा था जिसके बाद पीड़ित का कहना है कि 2 लोगों को पुलिस ने छोड़ दिया है.

इन दो पपी ने कर दी सांप की हालत पतली, मुंह में दबाए खेल रहे खेल, Video देख नहीं थमेगी हंसी

हिंदू परिवारों ने अपने घर के बाहर लिखा पलायन का संदेश
इस बीच नाटकीय घटनाक्रम में मोहल्ले के कुछ हिंदू परिवारों ने अपने घर के बाहर पलायन के संदेश लिख दिए हैं. पीड़ित परिजन और उसके पड़ोसी ने अपने घर के बाहर यह संदेश लिख दिया है कि वह यहां से पलायन कर रहे हैं. 

जबरन धर्म परिवर्तन का दबाब
पीड़ितों का कहना है कि मोहल्ले के दबंग उनसे दो ही बात करते थे या तो जबरन इस्लाम धर्म कबूल कर लो या फिर मोहल्ला छोड़ दो. वह जबरन दूसरे धर्म को नहीं अपनाएंगे इसलिए उन्होंने मोहल्ला छोड़ने का फैसला लिया है और अब वह इस मोहल्ले से बहुत जल्द कहीं और चले जाएंगे क्योंकि उन्हें अपनी और अपने परिवार की जान का खतरा मंडरा रहा है. 

पीड़ितों का यह भी कहना है कि आफताब लगातार उनको धमका रहा है और यह भी कह रहा है कि योगी आदित्यनाथ की सरकार बदलते ही समाजवादी पार्टी की सरकार आएगी और तब इस मुकदमे का बदला उनसे बखूबी लिया जाएगा.

अवैध संबंधों के शक में पति ने की पत्नी की हत्या,थाने पहुंचकर कहा- झाड़ियों में पड़ी है लाश

WATCH LIVE TV