close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

शहीद मेजर केतन शर्मा को नम आंखों से आखिरी विदाई

सेना के जवानों ने मंगलवार को अपने साथी मेजर केतन शर्मा को पूरे सम्मान के साथ आखिरी विदाई दी. इसके बाद राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया.

शहीद मेजर केतन शर्मा को नम आंखों से आखिरी विदाई
मेजर केतन शर्मा की अंतिम विदाई के वक्त हर किसी की आंखें नम थी. फोटो: एएनआई

नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में शहीद हुए मेजर केतन शर्मा का पार्थिव शरीर मंगलवार को उनके शहर मेरठ पहुंचा. इससे पहले दिल्ली में आखिरी विदाई दी गई. कश्मीर में शहीद हुए मेरठ निवासी मेजर केतन शर्मा के घर गमजदा माहौल में उन्हें आखिरी सलामी दी गई. आखिरी सलामी के वक्त शहीद मेजर के परिजनों का रो रो कर बुरा हाल था. खासकर उनकी 4 साल की मासूम बेटी को देखकर हर किसी की आंखें नम हो गईं.

मेजर की पत्नी और उनकी बेटी मंगलवार सुबह अपने घर पहुंचीं. इससे पहले शहीद मेजर की पत्नी ईरा दिल्ली स्थित अपने मायके में थीं. उन्हें भी रात में ही अपने पति के शहीद होने का समाचार मिला था. लेकिन उनके परिजनों ने रात में मेरठ नहीं आने दिया. आज सुबह वह अपने अपने परिजनों के साथ मेरठ कंकरखेड़ा स्थित अपनी ससुराल पहुंची. ससुराल पहुंचने पर उनका रो-रोकर बुरा हाल था. मेजर की बेटी जो कि अभी चार साल की है वह गुमसुम सबको देखती रही. उसको यह नहीं मालूम कि उसके घर में हो क्या रहा है.

सेना के जवानों ने अपने साथी मेजर केतन शर्मा को पूरे सम्मान के साथ आखिरी विदाई दी. इसके बाद राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया.