CAA Protest : कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष शाहनवाज की गिरफ्तारी पर बवाल, भड़के कांग्रेसियों पर लाठीचार्ज

कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष शाहनवाज आलम कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के काफी करीबी माने जाते हैं. वे उनकी कोर टीम का हिस्सा भी हैं. ऐसे में कांग्रेस यूपी पुलिस के इस कदम से खासी नाराज है. यूपी कांग्रेस अध्यक्ष लल्लू सिंह ने इस बारे में कई ट्वीट भी किए हैं.

CAA Protest : कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष शाहनवाज की गिरफ्तारी पर बवाल, भड़के कांग्रेसियों पर लाठीचार्ज
शाहनवाज आलम

लखनऊ: यूपी कांग्रेस (UP Congress) के कार्यकर्ताओं ने सोमवार रात हजरतगंज कोतवाली के सामने जमकर बवाल किया. यूपी कांग्रेस (UP Congress) अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ (Minority Cell) के चेयरमैन शाहनवाज़ आलम (Shahnawaz Alam) की रात में हुई गिरफ्तारी (Arrest) से भड़के कांग्रेसियों ने थाने का घेराव किया और हंगामा काटा. जब पुलिस (UP Police) के समझाने पर भी जब वे नहीं हटे तो पुलिस ने लाठियां भांजकर उन्हें मौके से खदेड़ा. 

शाहनवाज आलम के घर से हुई गिरफ्तारी
शाहनवाज आलम को सोमवार रात 8 बजे तब गिरफ्तार किया गया, जब वे कांग्रेस मुख्यालय से अपने घर पहुंचे ही थे. हज़रतगंज पुलिस ने 19 दिसंबर 2019 को लखनऊ में सीएए (CAA) के विरोध में हुई हिंसा और आगजनी के मामले में शाहनवाज आलम को गिरफ्तार किया है.  

पुलिस ने दी गिरफ्तारी की जानकारी 
डीसीपी सेंट्रल दिनेश सिंह ने इस बाबत जानकारी देते हुए बताया कि पिछले वर्ष 19 दिसंबर को लखनऊ में हुई हिंसा के आरोप में कांग्रेस नेता शाहनवाज आलम को गिरफ्तार किया गया है. पहले इनके खिलाफ साक्ष्य नहीं थे, लेकिन अब सबूत मिलने के बाद इन्हें पुलिस ने हिरासत में लिया है. एसीपी हजरतगंज की टीम ने शाहनवाज आलम को सोमवार रात हिरासत में लिया और उनसे पूछताछ जारी है. 

इसे भी पढ़िए: मायावती बोलीं- चीन मुद्दे पर हम मोदी सरकार के साथ, कांग्रेस की गलतियों से सबक ले BJP

भड़के कांग्रेसियों में जमकर बवाल काटा 
शाहनवाज आलम को लखनऊ पुलिस ने जिस तरह से गिरफ्तार किया, वो कांग्रेसियों के गले नहीं उतर रहा है. गिरफ्तारी के एक घंटे बाद कांग्रेसियों ने बवाल काटना शुरू कर दिया. UPCC के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और सीएलपी लीडर आराधन मिश्रा हज़रतगंज कोतवाली पहुंच गईं. वहां पुलिस और कांग्रेसियों के बीच बहसबाजी चलती रही. मौजूद कार्यकर्ताओं को पुलिस ने समझाया, लेकिन जब वे नहीं माने तो उन्हें नारेबाजी कर रहे कार्यकर्ताओं हल्का लाठीचार्ज करना पड़ा. तब जाकर कोतवाली परिसर को खाली कराया जा सका. इसी बीच यूपी कांग्रेस ने एक CCTV फुटेज भी जारी किया. जिसमें सादे कपड़ों में यूपी पुलिस बोलेरो गाड़ी से शाहनवाज आलम को ले जाती हुई दिख रही है. 

प्रियंका गांधी के करीबी है शाहनवाज आलम 
कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष शाहनवाज आलम कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के काफी करीबी माने जाते हैं. वे उनकी कोर टीम का हिस्सा भी हैं. ऐसे में कांग्रेस यूपी पुलिस के इस कदम से खासी नाराज है. यूपी कांग्रेस अध्यक्ष लल्लू सिंह ने इस बारे में कई ट्वीट भी किए हैं और सरकार को लाठीचार्ज और शाहनवाज आलम की गिरफ्तारी पर खरी-खोटी सुनाई है. 

ये भी देखिए: UP: विधानसभा के मानसून सत्र में बदली दिखेगी सदन की तस्वीर, दर्शक दीर्घा में बैठेंगे कुछ विधायक

CAA हिंसक प्रदर्शनों पर सख्त है सरकार 
योगी सरकार 19 दिसंबर 2019 को हुए हिंसक प्रदर्शन पर कार्रवाई को लेकर काफी सख्त है. इस दौरान परिवर्तन चौक पर हुई आगजनी और हिंसा के मामले में पुलिस ने हाल में चार्जशीट भी दाखिल की है. कुछ दिनों पहले इसी आगजनी के आरोपियों से सम्पति को हुए नुकसान की भरपाई के लिए पूरे शहर में पुलिस ने होर्डिंग्स भी लगवाई थीं, जो काफी चर्चित रहीं.  

WATCH LIVE TV