शिक्षा-दीक्षा लेकर आध्यात्म की राह चले पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय, वृंदावन में सुनाएंगे श्रीमद् भागवत कथा

जीवन की नयी पारी की शुरुआत करने जा रहे गुप्तेश्वर पांडेय की यह पहली पहली श्रीमद् भागवत कथा है. जिसमें वह श्रद्धालुओं को कथामृत श्रवण करायेंगे. 

शिक्षा-दीक्षा लेकर आध्यात्म की राह चले पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय, वृंदावन में सुनाएंगे श्रीमद् भागवत कथा

कन्हैया शर्मा/मथुरा: कभी बिहार के रॉबिनहुड कहे जाने वाले बिहार पुलिस के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय अब नये अवतार में नजर आ रहे हैं. जिसमें वह श्रद्धालुओं को कथामृत श्रवण करायेंगे. बता दें गुप्तेश्वर पांडेय ने एक्टर सुशान्त सिंह सुसाइड केस में रिया चक्रवर्ती पर बयान देकर खूब सुर्खियां बटोरी थीं. अब वह वृंदावन में पहली बार मद्भागवत कथा का प्रवचन करते दिखाई देंगे. 

कान्हा की भूमि से शुरू करेंगे नई पारी
कान्हा की भूमि से जीवन की नयी पारी की शुरुआत करने जा रहे गुप्तेश्वर पांडेय की यह पहली पहली भागवत कथा है. जिसमें वह श्रद्धालुओं को कथामृत श्रवण करायेंगे. बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय खाकी, खादी के बाद अब धर्मगुरु की भूमिका में अपने नये अवतार की औपचारिक शुरुआत करने जा रहे हैं. बिहार में पुलिस सेवा के दौरान अपने कारनामों से चर्चा में रहने वाले गुप्तेश्वर पांडेय ने बिहार में शराब बंदी की वकालत करके भी मीडिया की हेडलाइन्स में रह चुके हैं.

यूपी चुनाव के केंद्र में इस बार ब्राह्मण मतदाता, BSP के बाद सपा ने शुरू की लुभाने की तैयारी

2009 में लोकसभा का चुनाव लड़ने के लिए पुलिस सेवा से ली स्वेच्छिक सेवानिवृत्त
चर्चाओं में रहना पूर्व डीजीपी का पुराना शगल रहा है. 2009 में बक्सर सीट से लोकसभा चुनाव लड़ने का मंसूबा लिए पुलिस सेवा से स्वेच्छिक सेवानिवृत्त ले चुके पांडेय जी ने नौ महीने बाद दोबारा बिहार पुलिस ज्वाइन कर ली थी. डीजीपी के पद पर रहते हुए पांडेय जी को एक बार फिर राजनेता बनने की धुन सवार हुई और डीजी पद से वीआरएस लेकर जदयू ज्वाइन कर ली. लेकिन टिकट नही मिल सका. 

राजनीतिक गुणों का अभाव, बचपन से हैं आध्यत्मिक गुण
वृंदावन में पहली बार मद्भागवत कथा प्रवचन करने से पहले मीडिया से मुखातिब पांडेय जी ने कहा कि राजनीति में जमने के लिये जो गुण होने चाहिए उनमें उसका अभाव है. जबकि जो आध्यत्म के जो गुण उन्हें बचपन से मिले है. उन्होंने उसे ही अपने जीवन का लक्ष्य बनाया है. ब्राह्मण परिवार में जन्म होने के कारण उन्हें सनातनी परिवेश में रहने का अनुभव शुरू से ही है.

यूपी में चलेगा लोकार्पण और शिलान्यास का दौर, BJP पूरब से पश्चिम तक बनाएगी चुनावी माहौल

अयोध्या में कथा प्रवचन की शिक्षादीक्षा लेकर चले आध्यात्म की राह
अयोध्या से कथा प्रवचन की पूरी शिक्षादीक्षा लेकर वह आध्यत्म की राह पर चल पड़े है. बिहार की शराबबंदी को ऐतिहासिक फैसला बताने वाले गुप्तेश्वर पांडेय अन्य राज्यो में भी प्रतिबंध के पक्ष में है. इस मौके पर केंद्रीय राज्यमंत्री अश्विनी चौबे व उत्तरप्रदेश श्रम कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष सुनील भराला ने भागवत प्रवक्ता श्यामसुंदर पाराशर के सानिध्य में वैदिक मंत्रोच्चार के साथ विधिवत भागवत जी का पूजन कर कथा का शुभारंभ किया. कार्यक्रम में अररिया बिहार के सांसद प्रदीप सिंह भी मौजूद रहे. 

WATCH LIVE TV