close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सोनभद्र नरसंहार पर मायावती ने कांग्रेस और सपा पर साधा निशाना, कही ये बड़ी बात

मायावती ने कहा कि भाजपा सरकार को भी इस मामले में सख्त कदम उठाके, वहां आदिवासियों को उनकी जमीन वापिस करानी चाहिए.

सोनभद्र नरसंहार पर मायावती ने कांग्रेस और सपा पर साधा निशाना, कही ये बड़ी बात
बसपा अध्यक्ष मायावती ने एक और ट्वीट में सीबीएसई परीक्षा का शुल्क बढ़ाए जाने को गरीब विरोधी करार देते हुए सरकार से इसे वापस लेने की अपील की है.

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने सोनभद्र प्रकरण को लेकर उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस और सपा के भूमाफिया ने पहले आदिवासियों की जमीन हड़प ली और अब घड़ियाली आंसू बहाए जा रहे हैं. मायावती ने ट्वीट करके कहा कि "सोनभद्र कांड के पीड़ित आदिवासियों के मुताबिक पहले कांग्रेस व फिर सपा के भू-माफियाओं ने इनकी जमीन हड़प ली, जिसका विरोध करने पर, इनके कई लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया. अब इस घटना को लेकर सपा व कांग्रेस के नेताओं को अपने घड़ियाली आंसू बहाने की बजाय इन्हें वहां पीड़ित आदिवासियों को, उनकी जमीन वापिस दिलाने के लिए आगे आना चाहिए, तो यह सही होगा."

एक और ट्वीट में उन्होंने कहा, "इसके साथ ही, प्रदेश की भाजपा सरकार को भी इस मामले में सख्त कदम उठाके, वहां आदिवासियों को उनकी जमीन वापिस करानी चाहिए." उन्होंने आगे लिखा, "बीएसपी फिर से यह मांग करती है. इसी प्रकार सामान्य वर्ग के छात्रों के शुल्क में भी दोगुनी वृद्धि की गई है. यह अति दुर्भाग्यपूर्ण, जातिवादी व गरीब विरोधी फैसला है. इसे तुरंत वापस ले."

बसपा अध्यक्ष मायावती ने एक और ट्वीट में सीबीएसई परीक्षा का शुल्क बढ़ाए जाने को गरीब विरोधी करार देते हुए सरकार से इसे वापस लेने की अपील की है. उन्होंने ट्वीट में लिखा कि अभी हाल में सीबीएसई ने 10वीं व 12वीं के लिए परीक्षा शुल्क में जो 24 गुना तक बढ़ोतरी की है, जिसके तहत अब एससी- एसटी छात्रों को 50 रुपये के बजाय 1200 रुपये देने होंगे. इसी प्रकार सामान्य वर्ग के छात्रों की शुल्क में भी दोगुनी वृद्धि की गई है. यह अति दुर्भाग्यपूर्ण, जातिवादी व गरीब विरोधी फैसला है. सीबीएसई इसे तुरंत वापस ले.