यूपी से जुड़े हैं कठुआ गैंगरेप के तार, जम्मू-कश्मीर SIT ने किया खुलासा

मामले में रेप का सह-आरोपी विशाल जंगोत्रा एक फोन के बाद मेरठ से रासना पहुंचा और उसने भी दूसरे आरोपियों के साथ बच्ची के साथ बलात्कार किया. 

यूपी से जुड़े हैं कठुआ गैंगरेप के तार, जम्मू-कश्मीर SIT ने किया खुलासा
जम्मू कश्मीर पुलिस ने मुजफ्फरनगर पहुंचकर आरोपी विशाल के कॉलेज पहुंचकर वहां से अटेंडेंस निकलवाई.

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में आठ साल की मासूम के साथ हुए गैंगरेप के बाद पूरे देश में रोष है. जम्मू कश्मीर स्पेशल इनवेस्टिगेशन टीम ने खुलासा किया कि मासूम के साथ पहले गैंगरेप हुआ और फिर उसे मौत के घाट उतार दिया गया. मासूम के साथ हुए गैंगरेप और हत्या के मामले में कुल आठ लोगों को क्राइम ब्रांच ने आरोपी बनाया है. जानकारी के मुताबिक, इस केस के तार यूपी के मुजफ्फरनगर से जुड़े हैं. मामले में रेप का सह-आरोपी विशाल जंगोत्रा एक फोन के बाद मेरठ से रासना पहुंचा और उसने भी दूसरे आरोपियों के साथ बच्ची के साथ बलात्कार किया. 

ये भी पढ़ें: कठुआ रेप-हत्या मामला : वकीलों ने पीड़िता के वकील को कोर्ट में पेश होने से रोका था

B.Sc का स्टूडेंट है आरोपी 
जानकारी के मुताबिक, इस मामले में आरोपी विशाल जंगोत्रा चौधरी मुजफ्फरनगर जनपद के मीरापुर कस्बे में रहकर पढ़ता है. वो मुजफ्फरनगर के आकांक्षा कॉलेज में बीएससी एग्रीकल्चर में प्रथम वर्ष के छात्र है. इस मामले में जांच के लिए स्पेशल इनवेस्टीगेशन टीम का गठन किया गया. 

आरोपी बोला- 'मैं मुजफ्फरनगर में परीक्षा दे रहा था'
जानकारी के मुताबिक, एसआईटी ने जब आरोपी से पूछताछ शुरू की तो, आरोपी छात्र विशाल ने बताया कि वारदात के वक्त वो मुजफ्फरनगर में था और पेपर दे रहा था. इसके बाद सआईटी की टीम ने मेरठ के सीसीएसयू रजिस्ट्रार से भी इस बावत सहयोग मांगा था. 

ये भी पढ़ें: कठुआ बलात्कार हत्या मामले में राजनीति से जम्मू में तनाव

SIT के हाथ लगे अहम सुराग
एसआईटी ने मेरठ-मुजफ्फरनगर में अपनी छानबीन शुरू की. शुरूआती जांच में एसआईटी को पता चला कि आरोपियों की परीक्षा 12, 15 और 17 जनवरी को हुई थी और परीक्षा सेंटर खतौली के केके जैन कालेज में था. 23 मार्च को एसआईटी मेरठ में चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी पहुंची और आरोपी की परीक्षा की कॉपियां यूनिवर्सिटी से मांगी गई, ताकि हैंडराइटिंग का मिलान कर सके. 

कॉपियां बदलवाई और फर्जी सबूत जुटाए
जानकारी के मुताबिक, आरोपी ने खुद को बचाने के लिए मेरठ में कॉपी बदलने वाले गिरोह (कविराज गिरोह) की मदद से कॉपियां बदलवाई और फर्जी सबूत जुटाए थे. ऐसे में जम्मू एसआईटी अब कविराज गिरोह को भी आरोपी बनाया है. 

ये भी पढ़ें: कठुआ गैंगरेप : राहुल गांधी बोले- यह इंसानियत के खिलाफ अपराध

आरोपी विशाल को गिरफ्तार 
मुजफ्फरनगर जनपद के मीरापुर कस्बे की पंजाबी कॉलोनी में किराए पर रहने वाले विशाल को जम्मू पुलिस ने 17 मार्च को गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी विशाल को क्राइम ब्रांच इंस्पेक्टर केवल किशोर के नेतृत्व में मीरापुर से अपने साथ लेकर जम्मू गई थी.