MLA यौन शोषण केस: बच्ची का DNA टेस्ट करवाने का दावा झूठा, पुलिस की जांच रिपोर्ट में खुलासा

विधायक पर दुष्कर्म और दोनों की एक बेटी होने की बात कहने वाली महिला ने कुछ दिनों पहले दावा किया था कि उसकी बच्ची की DNA रिपोर्ट उसके पति से मैच नहीं कर रही है. ऐसे में MLA महेश नेगी का DNA करवाया जाए. 

MLA यौन शोषण केस: बच्ची का DNA टेस्ट करवाने का दावा झूठा, पुलिस की जांच रिपोर्ट में खुलासा
BJP विधायक महेश नेगी(R) पर लगे हैं यौन शोषण के आरोप.

देहरादून: MLA महेश नेगी पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली महिला पर अब सवाल उठने लगे हैं, क्योंकि अपनी बच्ची का DNA टेस्ट करवाने का दावा करने वाली बात झूठ साबित हुई है. बाल अधिकार एवं संरक्षण आयोग को दी गई जानकारी के मुताबिक महिला की बच्ची और उसके पति का DNA टेस्ट के लिए कोई सैंपल नहीं लिया गया था.

विधायक पर दुष्कर्म और दोनों की एक बेटी होने की बात कहने वाली महिला ने कुछ दिनों पहले दावा किया था कि उसकी बच्ची की DNA रिपोर्ट उसके पति से मैच नहीं कर रही है. ऐसे में MLA महेश नेगी का DNA करवाया जाए. वहीं बाल अधिकार एवं संरक्षण आयोग ने बिना कोर्ट की परमिशन के DNA टेस्ट कराए जाने के मामले का संज्ञान लेते हुए देहरादून पुलिस को जांच के आदेश दिए थे. पुलिस ने जांच के बाद बाल आयोग को जानकारी दी है कि टेस्ट के लिए कोई सैंपल लिए ही नहीं गए थे.

ये भी पढ़ें: महिला आयोग के सामने फिर पेश नहीं हुई MLA पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली महिला, महेश नेगी ने की ये मांग

क्या है पूरा मामला
कुछ दिन पहले ही बीजेपी विधायक की पत्नी ने देहरादून के थाना नेहरू कॉलोनी में एक महिला पर ब्लैकमेलिंग का आरोप लगाते हुए FIR दर्ज कराई थी, जिसके बाद उक्त महिला ने विधायक पर यौन शोषण का आरोप लगाते हुए एक वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था. वीडियो के जरिए उसने दावा किया कि विधायक और उसकी एक बेटी भी है, जिसे साबित करने के लिए वह DNA टेस्ट के लिए तैयार है. महिला ने विधायक के खिलाफ थाने में तहरीर भी दी है.

लेकिन विधायक पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली महिला संदेह के घेरे में है. महिला अब तक एक भी बार महिला के आयोग के सामने पेश नहीं हुई है. जबकि विधायक महेश नेगी दो बार महिला आयोग के सामने पेश हो चुके हैं. ऐसे में बुधवार को उन्होंने मांग की है कि यौन शोषण का आरोप लगाने वाली महिला की शिकायत खारिज की जाए. 

WATCH LIVE TV: