SP-BSP गठबंधन से नाराज मुलायम बोले, 'आधा उत्तर प्रदेश तो पहले ही हार गए'

मुलायम सिंह ने कहा कि अगर पार्टी अकेले चुनाव लड़ती तो ज्यादा बेहतर प्रदर्शन करती

SP-BSP गठबंधन से नाराज मुलायम बोले, 'आधा उत्तर प्रदेश तो पहले ही हार गए'
मुलायम सिंह ने कहा कि अब पार्टी में उम्मीदवारों को कमजोर किया जा रहा है. पार्टी में महिलाओं की संख्या कम हो रही है जो कि चिंता की बात है. (फाइल फोटो)

लखनऊ: समाजवादी पार्टी (सपा) के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने गुरुवार को सपा और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) गठबंधन पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि गठबंधन कर आधी-आधी सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं इससे आधा उत्तर प्रदेश तो पहले ही हार गए. पार्टी मुख्यालय पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मुलायम ने कहा, 'गठबंधन कर आधी-आधी सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं. आधा यूपी तो पहले ही हार गए. जब हम रक्षा मंत्री थे तो सपा ने 42 सीटें जीतीं थी.'

मुलायम ने पूछा,'सपा-बसपा में आखिर किस आधार पर 37-38 सीटें बांटी गई हैं. सपा की हैसियत ज्यादा है. अगर पार्टी अकेले चुनाव लड़ती तो ज्यादा बेहतर प्रदर्शन करती.' उन्होंने कहा कि 2019 में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को बढ़त दिख रही है. सपा अभी पीछे है.

'लोग टिकट बांटने में देरी कर रहे हैं'
उन्होंने कहा,'लोग टिकट बांटने में देरी कर रहे हैं. मुझे नाम दिया गया है संरक्षक और क्या काम करना है लिखा ही नहीं. जो लोग लड़ना चाहते हैं वह लिखकर दें, मैं तुरंत टिकट दूंगा.'

उन्होंने कहा,'मुलायम बात करते तो ठीक है. लड़का बात कर रहा है. पार्टी को खत्म कौन कर रहा है? अपने ही लोग पार्टी को खत्म कर रहे हैं. तीन बार बहुमत से सरकार बनाई. रक्षा मंत्री भी रहा.' 

'पार्टी में उम्मीदवारों को कमजोर किया जा रहा है' 
सपा संरक्षक ने कहा कि अब पार्टी में उम्मीदवारों को कमजोर किया जा रहा है. पार्टी में महिलाओं की संख्या कम हो रही है जो कि चिंता की बात है.

उन्होंने कहा कि अभी तक हमें कुछ लोगों ने नाम दिए हैं रामगोपाल को भी नाम दे रहे हैं. शिवपाल को भी दे रहे हैं और अखिलेश को भी दे रहे हैं. शिवपाल ने तो अलग पार्टी बना ली है तो हमें दीजिए रामगोपाल को दीजिए हम दोनों मिलकर तय करेंगे कि कौन लड़ेगा और कौन जीतेगा. आप लोग नाम नहीं दे रहे हैं. मुलायम ने कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि सबकुछ छोड़कर चुनाव में जुट जाइए. जीत कर ही दम लीजिए.