close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अमित शाह ने विपक्ष पर किया प्रहार, कहा- सिर्फ मोदी सरकार दे सकती है पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि विपक्षी गठबंधन की एक ही पहचान है ‘सेना का अपमान करना’. 

अमित शाह ने विपक्ष पर किया प्रहार, कहा- सिर्फ मोदी सरकार दे सकती है पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब
.(फाइल फोटो)

आगरा (उत्तर प्रदेश): बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने विपक्ष पर प्रहार करते हुए कहा कि सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ही आतंकवाद को उखाड़ फेंक कर पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दे सकती है. बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि विपक्षी गठबंधन की एक ही पहचान है ‘सेना का अपमान करना’. विपक्षी पार्टियां देश को सुरक्षित नहीं रख सकतीं .सिर्फ और सिर्फ मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार ही देश की सुरक्षा कर सकती है.
शाह उत्तर प्रदेश के आगरा में रविवार को भाजपा की ‘विजय संकल्प रैली’ को संबोधित कर रहे थे.

पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकवादी शिविर पर सेना की कार्रवाई को लेकर सवाल उठाने के लिये उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर सेना के शौर्य का अपमान करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा, ‘‘आखिर वोट-बैंक की राजनीति के लिये आप कितना गिरेंगे? राहुल गांधी, वोट बैंक के लिये राष्ट्रीय सुरक्षा से खेलना बंद करें.’’

कांग्रेस भाजपा पर बालाकोट में वायुसेना की हवाई कार्रवाई का राजनीतिकरण करने का आरोप लगा रही है. शाह ने रविवार को आगरा कॉलेज मैदान में ‘विजय संकल्प रैली’ में लोकसभा चुनाव 2019 के अंतर्गत भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में चुनावी शंखनाद किया. रैली में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के साथ प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा भी मौजूद थे.

शाह ने आगाह किया कि विपक्षी दलों की न तो नीति है और न ही कोई सिद्धांत. उन्होंने आगरा सुरक्षित सीट से भाजपा प्रत्याशी प्रो. एस पी सिंह बघेल और फतेहपुर सीकरी सामान्य सीट से पार्टी प्रत्याशी राजकुमार चाहर को विजयी बनाने की अपील की. भाजपा ने कहा है कि वह रविवार को देश भर में 200 से अधिक ‘विजय संकल्प रैली’ निकालेगी.

भाजपा अध्यक्ष ने विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए कहा, ‘‘एक ओर तो राजग खड़ा है तो वहीं दूसरी ओर विपक्ष का गठबंधन, जिसके पास न तो कोई नेता है, न कोई नीति है और न ही कोई सिद्धांत. ये सब प्रधानमंत्री मोदी के डर की वजह से एकजुट हो रहे हैं और इनका मकसद सिर्फ और सिर्फ मोदी को सत्ता से बाहर करना है, लेकिन इनका ये मकसद सफल नहीं होगा क्योंकि देश की जनता ने मन बना लिया है.

2014 में जनता ने मोदी के नाम पर वोट दिया था लेकिन अब 2019 में वह मोदी के नाम के अलावा पांच वर्ष में उनके द्वारा किये गये काम के आधार पर वोट देगी.’’ उन्होंने विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए कहा, ‘‘बसपा प्रमुख चुनाव लडऩा नहीं चाहतीं, लेकिन मोदी को हटाना उनका उद्देश्य है. यही स्थिति अखिलेश यादव, शरद पवार और ममता बनर्जी की भी है.’’

उन्होंने कटाक्ष किया, ‘‘इन लोगों को चुनाव लडऩा नहीं है लेकिन मोदी को जरूर हटाना है. वे भूल रहे हैं कि नामुमकिन अब मुमकिन है. यानि कि मोदी जी हैं जो सबकुछ मुमकिन है.’’ उन्होंने तंज कसते हुए कहा, ‘‘जब इनका प्रधानमंत्री उम्मीदवार ही तय नहीं हैं तो क्या ये लोग सोमवार, मंगलवार, बुधवार के हिसाब से एक-एक दिन के पीएम बनेंगे.’’

उन्होंने कहा कि विपक्ष का एकमात्र काम यही है कि मोदी द्वारा देशहित में किये जा रहे कार्यों की आलोचना करना. ‘विजय संकल्प रैली’ में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘‘लोकसभा चुनाव 2014 में मोदी का नाम था, लेकिन अब 2019 में उनका ‘नाम और काम’ दोनों हमारे साथ है.

इनमें आयुष्मान भारत योजना, स्वच्छ भारत अभियान, आवास योजना, उज्ज्वला योजना, बिजली के कनेक्शन आदि के द्वारा जनहित में गांव, गरीब और किसान के इतने कार्य हुए हैं जितने कि किसी अन्य सरकार में नहीं हुए. उन्होंने कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश का देश में अपना महत्व है और इस प्रदेश से 2014 में सबसे ज्यादा सांसद भी मिले.’’

उन्होंने आगरा की सराहना करते हुए कहा, ‘‘यहां पांच विश्व पर्यटक स्थल हैं. इस शहर की पहले काफी अपेक्षा होती रहती थी, लेकिन मोदीजी ने इस शहर को मेट्रो रेल योजना की सौगात दी. वर्तमान में उत्तर प्रदेश में गुण्डाराज का कोई नाम लेने वाला नहीं है. गुण्डे या तो जेल में हैं या वे दूसरे लोक में हैं.’’