close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सहारनपुर: मैट्रिमोनियल साइट से जरा बचके! शादी के बहाने हुई 9,99,099 रुपए की ठगी

काफी दिनों तक संपर्क नहीं होने के बाद पीड़िता ने थाना मंडी में रिपोर्ट दर्ज कराते हुए न्याय की मांग की. पुलिस ने तहकीकात शुरू की और साइबर क्राइम टीम के साथ मिलकर दो विदेशी नाइजीरियन युवको के साथ उनकी महिला साथी को भी गिरफ्तार किया. 

सहारनपुर: मैट्रिमोनियल साइट से जरा बचके! शादी के बहाने हुई 9,99,099 रुपए की ठगी
प्रतीकात्मक तस्वीर

सहारनपुर, नीना जैन: शादी (Marriage) करके सात समंदर पार घर बसाने इच्छा है तो ये खबर आपके लिए है. फेसबुक (Facebook) पर एनआरआई (NRI) लड़कों की दिलचस्प तस्वीरें, बड़े घर, महंगे गिफ्ट अगर आपको लुभातीं हैं तो संभल जाइए और अगर मैट्रिमोनियल साइट (Matrimonial Site) से है शादी का इरादा है तो और भी चौकन्ने हो जाइए. सहारनपुर पुलिस (Saharanpur Police,) एक ऐसी फर्जीवाड़े का भांडाफोड किया है. 

दरअसल, शादी करने का झांसा देकर दो विदेशी युवकों ने एक महिला से 9,00,000 से भी अधिक रुपयों की ठगी कर डाली. मामला सहारनपुर के थाना मंडी क्षेत्र का है, जहां सरकारी विद्यालय में अध्यापिका के पद पर कार्यरत एक तलाकशुदा महिला ने वेबसाइट पर शादी की इच्छा जताते हुए अपना पूरा बायोडाटा डाला था.

कृष्ण कुमार के नाम से फर्जी एनआरआई की आईडी से फ्रेंडशिप कर शादी का पूरा भरोसा दिलाते हुए अपना जन्मदिन मनाने के लिए अपने दो बच्चों के साथ इंडिया आने की बात कही. इतना ही नहीं अपना फर्जी टिकट भी वाट्सएप पर भेजा.

आरोपी ने बाद में पीड़िता को उसके लिए लाखों के जेवर लाने की बात कहते हुए मुंबई के एयरपोर्ट पर कस्टम विभाग द्वारा पकड़े जाने की बात कही और इन दो विदेशियों के साथ उनकी महिला साथी से भी बात कराई और धोखाधड़ी कर महिला से विभिन्न अकाउंट्स में 9,99,099 जमा करवाए और फिर गायब हो गए. 

लाइव टीवी देखें

काफी दिनों तक संपर्क नहीं होने के बाद पीड़िता ने थाना मंडी में रिपोर्ट दर्ज कराते हुए न्याय की मांग की. पुलिस ने तहकीकात शुरू की और साइबर क्राइम टीम के साथ मिलकर दो विदेशी नाइजीरियन युवको के साथ उनकी महिला साथी को भी गिरफ्तार किया. पुलिस ने आरोपियों को नोएडा से गिरफ्तार किया है. 

आरोपियों के पास लैपटॉप, फर्जी दस्तावेज, अत्याधुनिक मोबाइल फोन, आईपैड, एटीएम, पेन ड्राइव व अन्य सामान बरामद किया है. पकड़े गए युवको की पहचान नाइजेरियन निवासी पॉल हैरिस, जॉर्ज और महिला की पहचान सिरजा सिंह के रूप में हुई है. 

दोनों युवक और युवती मिलकर ही इन फर्जी आईडी के द्वारा लोगों को फंसाने का कार्य करते थे और खासकर तलाकशुदा महिलाओं को यह अपना टारगेट बनाते थे. फिलहाल पुलिस ने कोर्ट में पेश करने के बाद रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है ताकि और अन्य मामलों का खुलासा किया जा सके.