अखिलेश यादव ने कहा- 'इलाहाबादी अमरूद' का भी नाम बदलकर 'प्रयागराजी अमरूद' हो गया है? मंत्री ने दिया जवाब

कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता ने अखिलेश के इस तंज का जवाब दिया.

अखिलेश यादव ने कहा- 'इलाहाबादी अमरूद' का भी नाम बदलकर 'प्रयागराजी अमरूद' हो गया है? मंत्री ने दिया जवाब

प्रयागराज:  सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने यूपी में शहरों के नाम बदलने को लेकर सरकार को  निशाने पर लिया. उन्होंने शुक्रवार को एक ट्वीट करके यूपी सरकार पर निशाना साधा. अखिलेश ने लिखा," भाई अभी भी सबसे प्रसिद्ध अमरूद 'इलाहाबादी अमरूद' कहलाता है या उसका भी नाम बदलकर 'प्रयागराजी अमरूद' हो गया है? इसके साथ ही उन्होंने अमरूद के साथ अपनी एक फोटो भी साझा की.

Postive Story: कोरोना काल में गई नौकरी, तो खेती से बदल दी अपनी किस्मत

मंत्री ने दिया जवाब
कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता ने अखिलेश के इस तंज का जवाब दिया. उन्होंने उनके पोस्ट को रीट्वीट करते हुए लिखा- "को कहि सके प्रयाग प्रभाऊ...प्रयागराज संगमनगरी की पौराणिक पहचान है. लोकआस्था का प्रतिबिंब इस शब्द में रचा-बसा है. खैर गुलामी के प्रतीकों पर गौरव करने वाले अखिलेश यादव को इसका महत्त्व कहां से पता होगा? यह मखौल संगमनगरी की अस्मिता पर आघात जैसा है! ईश्वर अखिलेश यादव को सद्बुद्धि दे."

इलाहाबाद का बदला गया नाम
जैसा कि आपको पता होगा कि योगी सरकार ने संगम नगरी इलाहाबाद को अब प्रयागराज कर दिया गया है. इसके अलावा  फैजाबाद का भी नाम बदलकर अयोध्या किया जा चुका है. हालांकि, सरकार ने साल 2017 में सबसे पहले मुगलसराय स्टेशन के साथ नाम बदलने की प्रक्रिया शुरू की थी. केंद्र सरकार की मंजूरी मिलने के बाद अगस्त 2018 में मुगलसराय स्टेशन पंडित दीन दयाल उपाध्याय स्टेशन बन गया. इसके बाद से लगातार कई स्थानों और जिलों के नाम बदलने की मांग हो रही है.

WATCH LIVE TV