सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने की इलाहाबाद हाई कोर्ट में 16 जजों की नियुक्ति की संस्तुति, जानें मामला
X

सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने की इलाहाबाद हाई कोर्ट में 16 जजों की नियुक्ति की संस्तुति, जानें मामला

हाई कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर हुई थी, जिसके तहत बार एसोसिएशन की कार्यकारिणी का चुनाव कराए जाने की मांग की गई थी. इस मामले में कोर्ट ने दोनों पक्षों को एडवाइस किया है कि आमने-सामने बैठकर 15 दिन में कोई उपाय निकालें...

सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने की इलाहाबाद हाई कोर्ट में 16 जजों की नियुक्ति की संस्तुति, जानें मामला

प्रयागराज: इलाहाबाद हाई कोर्ट से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आ रही है. सुप्रीम कोर्ट कोलिजियम ने हाई कोर्ट में 16 जजों की नियुक्ति की संस्तुति की है. 16 जजों की संस्तुति में शामिल नामों में 13 अधिवक्ता और 3 न्यायिक सेवा से जुड़े हैं. अधिवक्ता से नियुक्त होने वाले जजों में चंद्र कुमार राय, शिशिर जैन, कृष्ण पहल, समीर जैन, आशुतोष श्रीवास्तव, सुभाष विद्यार्थी, बृजराज सिंह, श्री प्रकाश सिंह, विकास बुधवार, विक्रम ड़ी चौहान रिशद मुर्तजा, ध्रुव माथुर और विमलेंदु त्रिपाठी का नाम शामिल है. जबकि न्यायिक सेवा से जजों के लिए नियुक्ति होने वालों में ओम प्रकाश त्रिपाठी, उमेश चंद्र शर्मा व शैयद वैज मियां शामिल हैं. न्यायिक सेवा की संस्तुति पुनर्विचार के लिए की गई है.

प्रयागराज: इलाहाबाद विश्विद्यालय में Ayushman Khurana  की डॉक्टर जी' फिल्म की शूटिंग के दौरान जमकर हंगामा

इस याचिका पर कोर्ट का सुझाव
गौरतलब है कि हाई कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर हुई थी, जिसके तहत बार एसोसिएशन की कार्यकारिणी का चुनाव कराए जाने की मांग की गई थी. इस मामले में कोर्ट ने दोनों पक्षों को एडवाइस किया है कि आमने-सामने बैठकर 15 दिन में कोई उपाय निकालें. कोर्ट का कहना है कि कम से कम बार एसोसिएशन में यूनिटी होनी चाहिए. तभई सदस्यों के कल्याण और हित के काम हो सकेंगे.

10 सदस्य बैठकर करें बात
कोर्ट ने सुझाव दिया है कि दोनों पक्षों से 5-5 मेंबर्स बैठकर जमीनी हकीकत पर विचार करें और फिर फैसला लें. इस दौरान कोविड-19 के नियमों का पालन करना जरूरी है. अब इस मामले में अगली सुनवाई 15 सितंबर को रखी गई है. बता दें, यह आदेश एक्टिंग चीफ जस्टिस एमएन भंडारी और जस्टिस एके ओझा की बेंच ने पूर्व संयुक्त सचिव प्रशासन संतोष कुमार मिश्र और अन्य की PIL पर दिया है. याचिका में बार एसोसिएशन के नियमों का पालन करने और मनमाने तरीके से एल्डर कमेटी के गठन की वैधता सहित कार्यकारिणी का चुनाव कराने की मांग की गई है.

WATCH LIVE TV

Trending news