ABVP के प्रदर्शन और चैनल की टीम से धक्का-मुक्की के बाद एएमयू परिसर में तनाव

ABVP के प्रदर्शन और चैनल की टीम से धक्का-मुक्की के बाद एएमयू परिसर में तनाव

एएमयू के एक प्रवक्ता ने बताया कि चैनल की टीम ने विश्वविद्यालय प्रशासन से लाइव कवरेज की इजाजत नहीं ली थी. 

ABVP के प्रदर्शन और चैनल की टीम से धक्का-मुक्की के बाद एएमयू परिसर में तनाव

अलीगढ़: हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) परिसर में प्रवेश न करने देने की मांग को लेकर आज बीजेपी के युवा संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के प्रदर्शन और एक समाचार चैनल की टीम से छात्रों द्वारा कथित तौर पर मारपीट को लेकर परिसर में तनाव की स्थिति पैदा हो गई है. 

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के मुताबिक मीडिया रिपोर्ट में यह कहा गया था की अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय छात्र संघ द्वारा मंगलवार को आयोजित एक कार्यक्रम में ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल उल मुस्लिमीन के सांसद असदुद्दीन ओवैसी को आमंत्रित किया गया था. इसके विरोध में एबीवीपी के कुछ कार्यकर्ताओं ने एएमयू के फैज गेट के पास प्रदर्शन किया. हालांकि ओवैसी कार्यक्रम में नहीं आए, लिहाजा इसे लेकर खड़ा हुआ विवाद खत्म होता नजर आया. मगर इसी बीच कार्यक्रम की कवरेज करने आए एक समाचार चैनल की टीम की कुछ छात्रों से उस वक्त बहस हो गई जब वह परिसर के अंदर के नजारे को फिल्मा रही थी.

हालांकि यह दोनों ही घटनाएं एक दूसरे से जुड़ी नहीं थी लेकिन इनकी वजह से एएमयू परिसर में तनाव की स्थिति बनती नजर आई. एएमयू के एक प्रवक्ता ने बताया कि चैनल की टीम ने विश्वविद्यालय प्रशासन से लाइव कवरेज की इजाजत नहीं ली थी. जब कुछ स्टाफ कर्मियों ने टीम को टोका तो दोनों पक्षों के बीच बहस मुबाहिसा हो गया, जिसमें कुछ छात्र भी शामिल रहे. प्रवक्ता ने बताया कि विश्वविद्यालय प्रशासन ने वक्त रहते मामले में हस्तक्षेप किया जिसकी वजह से उसका जल्द ही पटाक्षेप हो गया.

हालांकि समाचार चैनल की टीम के सदस्यों का आरोप है कि कुछ छात्रों ने उनके साथ मारपीट की और उनका कैमरा तोड़ दिया. अब तक मिली जानकारी के मुताबिक एएमयू प्रशासन और समाचार चैनल की टीम के सदस्यों ने एक दूसरे के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए शिकायत की है. इस बीच, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कुछ सदस्यों ने भी थाने में शिकायत दी है कि विश्वविद्यालय के फैज गेट के पास उसे मारपीट की गई और उनकी एक मोटरसाइकिल को जला दिया गया. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश कुलहरि ने बताया कि विभिन्न पक्षों द्वारा सिविल लाइंस थाने में कई शिकायतें दी गई हैं और पुलिस मुकदमे दर्ज करने की प्रक्रिया में जुटी है.  

(इनपुट भाषा से)

Trending news