कोरोना संक्रमण के डर से इस साल नहीं होंगे TET Exams, करीब 15 लाख कैंडिडेट्स पर पड़ेगा असर

एग्जामिनेशन रेगुलेटरी अथॉरिटी सेक्रेटरी अनिल भूषण चतुर्वेदी ने जानकारी दी है कि 2020 की टीईटी को अगर शासन की मंजूरी मिलती है तो अगले साल 2021 में एग्जाम आयोजित कराया जाएगा.

कोरोना संक्रमण के डर से इस साल नहीं होंगे TET Exams, करीब 15 लाख कैंडिडेट्स पर पड़ेगा असर
सांकेतिक तस्वीर.

लखनऊ: देश के कई राज्यों में कोरोना की रफ्तार फिर बढ़ने लगी है. इसका ध्यान रखते हुए इस साल उत्तर प्रदेश में शिक्षक पात्रता परीक्षा-2020 (TET-2020) आयोजित न किए जाने का फैसला लिया गया है. सेक्रेटरी ऑफ एग्जामिनेशन रेगुलेटरी अथॉरिटी ने शासन को टीईटी एग्जाम कराने का प्रस्ताव दिया था जिसपर शासन ने कोई निर्णय नहीं लिया है.

ये भी पढ़ें: श्री राम की नगरी इस दीपोत्सव कुछ यूं वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाएगी, 5 लाख 51 हजार दीपों से जगमगाएगी 

सारी सावधानी बरतते हुए परीक्षा कराना संभव नहीं
विभाग के अधिकारी ने जानकारी दी कि टीईटी में करीब 15 लाख से ज्यादा कैंडिडेट हिस्सा लेते हैं. महामारी के बीच इतनी बड़े स्तर पर एग्जाम कराना काफी चुनौतीपूर्ण है. अभ्यर्थियों के परीक्षा सेंटर तक पहुंचने, हर सेंटर पर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ सीटिंग की व्यवस्था करने और लोगों को संक्रमण से बचाने की के सारे अरेंजमेंट करना मुश्किल हो सकता है. यही वजह है कि सरकार अभी TET Exams कराने के पत्र में नहीं है. 

2021 में कराया जा सकता है TTE Exam
एग्जामिनेशन रेगुलेटरी अथॉरिटी सेक्रेटरी अनिल भूषण चतुर्वेदी ने जानकारी दी है कि शासन ने टीईटी कराने पर निर्णय नहीं किया है. टीईटी कराने के लिए कम से कम तीन महीने का समय चाहिए होता है. उन्होंने बताया कि 2020 में टीईटी कराना संभव ही नहीं है. 2020 की टीईटी को अगर शासन की मंजूरी मिलती है तो अगले साल 2021 में एग्जाम आयोजित कराया जाएगा.

WATCH LIVE TV