Republic Day पर यूपी की झांकी के लिए CM योगी के निर्देश पर ये होगी थीम, 'उत्तम प्रदेश' की दिखेगी झलक

बेरोजगारी से लड़ते हुए प्रदेश सरकार ने करीब 23 लाख लोगों को रोजगार दिलाए हैं. कोरोना संकट के बीच इतनी भारी मात्रा में रोजगार मिलना खुद में ही एक बड़ी उपलब्धि है.

Republic Day पर यूपी की झांकी के लिए CM योगी के निर्देश पर ये होगी थीम, 'उत्तम प्रदेश' की दिखेगी झलक
सांकेतिक तस्वीर.

लखनऊ: रिपब्लिक डे 2021 के मौके पर उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हर साल की तरह राजकीय समारोह का आयोजन होने वाला है. इस दौरान सैकड़ों चुनौतियों के बीच प्रदेश की उपलब्धियों की एक झलक जनता के सामने प्रस्तुत की जाएगी, जिसका नाम होगा 'चुनौतियों के बीच बढ़ता उत्तर प्रदेश'. सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर सूचना एवं जनसंपर्क विभाग (Information and Broadcasting Department)की झांकी के लिए यह थीम डिसाइड की गई है. इस बारे में CMO ने शनिवार को ट्वीट कर जानकारी भी दी.

इस झांकी में प्रदेश में बेहतर हो रही कानून व्यवस्था, राज्य में दिए गए रोजगार, किसानों के क्षेत्र में हुई प्रगति, आर्थिक और सामाजिक रूप से हुए डेवलपमेंट, इन्वेस्टर समिट, PM गरीब कल्याण रोजगार योजना, कोरोना काल में राज्य का बेहतरीन एक्शन और सीएम योगी के नेतृत्व में जिस तरह से तत्परता और प्रतिबद्धता के साथ काम हुआ है, यह सारी चीजें झांकी में प्रस्तुत की जाएंगी.

ये भी पढ़ें: नहीं मिली बाहुबली विजय मिश्रा को राहत, जेल से निकलने के पहले ही हुई जमानत निरस्त

 

चुनौतियों के बीच यूं उठा उत्तर प्रदेश
कोरोना के बीच भी भारी मात्रा में हुआ निवेश
बीते 3 साल में प्रदेश कई ऊंचाइयों पर पहुंचा है. कोरोना संकट के बीच भी विदेशी कंपनियों की तरफ से 600 करोड़ से ज्यादा का निवेश इसका प्रमुख उदाहरण है. राज्य में पूरे कोरोना काल के दौरान भी सिर्फ 6 महीने के अंदर 6 हजार 700 करोड़ का निवेश हुआ है. ईज़ ऑफ डूइंग बिजनेस की रैंकिंग में भी पहले उत्तर प्रदेश 10वें स्थान पर था, लेकिन अब लंबी छलांग मार कर सीधा दूसरी रैंक पर आ गया है. इससे साबित होता है कि योगी सरकार ने बेहतरीन काम किया है. 

कोरोना के बीच सरकार का बेहतरीन काम
कोरोना काल में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने सबसे बेहतर काम किया है. यह बात भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) ने अपनी रिपोर्ट में मानी है. अस्‍पताल, मेडिकल उपकरण, मास्‍क और वेंटिलेटर की व्‍यवस्‍था करने में यूपी देश में नंबर-1 रहा. प्रवासी श्रमिकों और दिहाड़ी मजदूरों की योगी सरकार ने सबसे ज्‍यादा मदद का रिकॉर्ड बनाया है.

ये भी पढ़ें: माफिया बदन सिंह बद्दो के घर को पुलिस ने किया कुर्क, ढोल बजाकर दी मुनादी

राज्य ने दी बेरोजगारी को भी मात
बेरोजगारी से लड़ते हुए प्रदेश सरकार ने करीब 23 लाख लोगों को रोजगार दिलाए हैं. कोरोना संकट के बीच इतनी भारी मात्रा में रोजगार मिलना खुद में ही एक बड़ी उपलब्धि है. इसके अलावा, उत्तर प्रदेश में 'वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट' योजना शुरू की गई जिसे राष्ट्रीय पहचान भी मिली. यूनियन बजट में प्रावधान किया गया है कि हर राज्य में ऐसी योजना लागू होनी चाहिए.

 

बेहतर हुई कानून व्यवस्था
उत्तर प्रदेश में खराब कानून व्यवस्था को भी सरकार ने मजबूत किया है. बेटियों के प्रति हो रहे अत्याचारों को रोकने और दुराचारियों को पकड़ने के लिए भी कई अभियान चलाए जा रहे हैं. साथ ही कुख्यात गैंगस्टर्स पर भी शासन ताबड़तोड़ एक्शन ले रहा है.

जेवर एयरपोर्ट भी है बड़ी उपलब्धि
लंबे समय से जेवर में एयरपोर्ट बनने की चर्चा चल रही थी, लेकिन अब ये हकीकत का रूप लेने वाला है. 7 फरवरी 2021 से एयरपोर्ट का निर्माण कार्य भी शुरू होने जा रहा है. यह एयरपोर्ट बनने के बाद दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशल एयरपोर्ट पर दबाव कम होगा और उत्तर प्रदेश में निवेश की संभावना भी बढ़ेगी. 

WATCH LIVE TV