कम होगी गढ़वाल-कुमाऊं की दूरी, काशीपुर-धामपुर रेल लाइन का सर्वे पूरा

दावा किया जा रहा है कि नई रेल लाइन के बनने से देहरादून से काठगोदाम के बीच रेल से दूरी 50 किमी कम हो जाएगी.

कम होगी गढ़वाल-कुमाऊं की दूरी, काशीपुर-धामपुर रेल लाइन का सर्वे पूरा
फाइल फोटो

देहरादून: गढ़वाल और कुमाऊं मंडलों को रेल मार्ग से नजदीक लाने की मुहिम रंग ला रही है. रेल मंत्रालय ने काशीपुर-धामपुर के बीच नई रेल लाइन के सर्वे का काम पूरा कर लिया है. दावा किया जा रहा है कि नई रेल लाइन के बनने से देहरादून से काठगोदाम के बीच रेल से दूरी 50 किमी कम हो जाएगी.

डेढ से 2 घंटे का सफर होगा कम
रेल लाइन के बन जाने से राजधानी देहरादून से कुमाऊं के द्वार हल्द्वानी के बीच रेल यात्रा का समय भी लगभग डेढ से 2 घंटे कम हो सकता है. बता दें कि वर्तमान में देहरादून-कठगोदाम रेलमार्ग मुरादाबाद, रामपुर ओर बिलासपुर होकर जाता है. ट्रैफिक के कारण ट्रेन को इस मार्ग में घंटो इंतजार करना पड़ता है. जानकारी के मुताबिक इस रेल लाइन के लिए 1250 करोड़ रुपयों का खर्चा आएगा.

अनिल बलूनी ने की थी रेल मंत्री से मांग
नई दिल्ली में भाजपा के राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी ने बताया कि उन्होंने बीते साल अगस्त माह में रेलमंत्री पीयूष गोयल से मिलकर काशीपुर-धामपुर के बीच नई रेल लाइन बिछाने की मांग की थी. जिस पर रेल मंत्री ने उनकी मांग को मानते हुए उक्त लाइन के सर्वे के काम को फौरन चालू करने के निर्देश दिए थे, जिसे अब पूरा कर लिया गया है.

"उत्तराखंड के विकास कार्यों के लिए करता रहूंगा काम"
गौरतलब है कि बलूनी पिछले दिनों ही लंबी बीमारी से लड़कर वापस सक्रिय राजनीति में लौटे हैं. इस दौरान मीडिया से बातचीत में बलूनी ने कहा कि वे पहले की तरह ही उत्तराखंड के विकास कार्यों के लिए काम करते रहेंगे. उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में कई और ऐसे विषय और विकास योजनाएं हैं जिनकी जानकारी वे अनुकूल समय में सार्वजनिक करेंगे.

ये भी पढ़ें: गैरसैंण के विकास के लिए त्रिवेंद्र सरकार की तैयारी, बनाई जाएगी एक्सपर्ट कमेटी

लाइव देखें यूपी-उत्तराखंड की हर खबर