UP पंचायत चुनाव: मतदान के दौरान की छोटी-सी गलती, तो कहीं रद्द ना हो जाए वोट!

मतदाताओं को कई चीजों का ध्यान रखना होगा, ताकि उनके वोट रद्द न हों और वो अपने पसंदीदा प्रत्याशी की जीत में भागीदार बन सकें. बता दें कि सुबह 7 बजे से वोटिंंग शुरू हो जाएगी. 

UP पंचायत चुनाव: मतदान के दौरान की छोटी-सी गलती, तो कहीं रद्द ना हो जाए वोट!
फाइल फोटो.

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (UP Panchayat Chunav 2021) की उलटी गिनती शुरू हो गई है. गुरुवार यानी15 अप्रैल को 18 जिलों में मतदान होंगे. कुल 51176 पोलिंग बूथों पर वोट डाले जाएंगे. वहीं, राज्य निवार्चन आयोग ने आंकडे़ं जारी कर बताया है कि पहले चरण में कुल 3 करोड़ 16 लाख 46 हजार 162 मतदाता शामिल होंगे.

ये वोटर्स ही गांव की सरकार का गठन करेंगे. सभी के वोट बेहद मायने रखते हैं. कई बार वोटर्स ऐसी गलतियां कर देते हैं, जिससे उनका वोट रद्द हो जाता है. ऐसे में मतदाताओं को कई चीजों का ध्यान रखना होगा, ताकि उनके वोट रद्द न हों और वो अपने पसंदीदा प्रत्याशी की जीत में भागीदार बन सकें. 

कैसे रद्द हो जाता है वोट
दरअसल, पंचायत चुनाव में मतदान बैलेट पेपर से हो रहे हैं. ऐसे में अगर मतदाता कुछ गलतियां करते हैं, तो उनका मत रद्द हो सकता है. इसके लिए सबसे पहले पर्चे का प्रारूप समझना जरूरी है. पर्चे में एक ओर प्रत्याशी का नाम होता है और दूसरी ओर  चुनाव चिन्ह होता है. वोटर को अपने पसंदीदा प्रत्याशी के चिन्ह पर ठप्पा लगाना होता है. उसके बाद पर्चे को मोड़ना होता है. ऐसा करने में अगर चूक हो जाती है, तो काउटिंग के दौरान वोट रद्द हो सकता है. 

ये भी पढ़ें- यूपी के किसान ध्यान दें! नहीं आई है PM Kisan की 8वीं क‍िस्त, तो ऐसे करें शिकायत

इन चीजों का रखें ध्यान 
1. ठप्पा ऐसा ना मारें कि स्याही दो चिन्हों पर लगे.
2. पर्चे को ढंग से मोड़कर डालें. किसी भी तरीके से मोड़कर ना डालें. 
3. इसके अलावा ठप्पा मारने के बाद उसे ऐसे मोड़े की स्याही चिन्ह के सामाने वाले नाम पर ही लगे. ऐसा नहीं कि वह किसी दूसरे चिन्ह या नाम पर लगे. अगर स्याही दो नामों या चिन्हों पर लगाता है, तो काउटिंग के दौरान उसे रद्द किया जा सकता है. इसलिए ध्यानपूर्वक ठप्पा लगाएं. 

2 मई को जारी होगा रिजल्ट 
चुनाव 15 अप्रैल, 19 अप्रैल, 26 अप्रैल और 29 अप्रैल को  कराए जाएंगे. पहले चरण में 18 जिले, दूसरे चरण में 20 जिले, तीसरे चरण में और 20 चौथे चरण में 17 जिले में चुनाव होंगे. वहीं, 2 मई को रिजल्ट जारी किया जाएगा. 

ये भी पढ़ें- UP पंचायत चुनाव: कोरोना पॉजिटिव वोटर्स का नहीं छूटेगा मतदान, सरकार ने बनाया खास प्लान

कल इन जगहों पर होंगे चुनाव
15 अप्रैल को सहारनपुर, गाजियाबाद, रामपुर, बरेली, हाथरस, आगरा, कानपुर नगर, झांसी, महोबा, प्रयागराज, बरेली, रायबरेली, हरदोई, अयोध्या बस्ती संत कबीर नगर, गोरखपुर , जौनपुर और भदोही में चुनाव होंगे. 

नहीं है वोटर आईडी कार्ड, न हों परेशान
अगर आप पंचायत चुनाव में बिना वोटर आईडी कार्ड के भी वोट डाल सकते हैं. बशर्ते आप की उम्र 18 साल या उससे ज्यादा हो. साथ ही मतदाता सूची में आपका नाम हो. कैसे ये जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.  UP पंचायत चुनाव: आपके पास भी नहीं है Voter ID Card, तो न हों परेशान, ऐसे कर सकेंगे मतदान

ये भी देखें- लड़कियों के बीच हुई ऐसी 'झोंटा-झोटी', भूल जाएंगे WWE का मैच

WATCH LIVE TV