close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उन्नाव: बैटरी से चलने वाले वाहनों की बदलेगी नंबर प्लेट, आसानी से हो सकेगी पहचान

केंद्रीय मोटरयान नियमावली के अनुसार अब बैटरी चलित वाहनों पर नए तरीके की नंबर प्लेट लगेगी. जिले में 1300 से अधिक ई-रिक्शा पंजीकृत हैं.

उन्नाव: बैटरी से चलने वाले वाहनों की बदलेगी नंबर प्लेट, आसानी से हो सकेगी पहचान
वाहन मालिकों को 15 जुलाई तक समय दिया गया है. (फाइल फोटो)

उन्नाव, दयाशंकर: उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों के साथ उन्नाव की सड़कों पर भी ई-रिक्शा समेत बैटरी चलित वाहनों की भरमार है. जिले में फर्राटा भर रहे बैटरी चलित वाहनों पर लगने वाली नंबर प्लेट के लिए परिवहन विभाग ने नया नियम लागू किया है. नए नियम के अनुसार, अब बिजली से चार्ज होकर बैटरी से चलने वाले इन वाहनों पर हरे रंग की नंबर प्लेट लगाई जाएगी. अन्य व्यवसायिक वाहनों पर पीला और निजी वाहनों पर सफेद रंग से गाड़ी का नंबर प्लेट पर अंकित किया जाएगा. 

दरअसल, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने बैटरी चलित वाहनों की सड़कों पर अलग पहचान के लिए बीते दिनों मोटर नियमावली में संशोधन किया है, जिससे बैटरी चालित ई-रिक्शा वाहनों के लिए हरी नंबर प्लेट अनिवार्य किया है. नम्बर प्लेट पर पीले रंग से पंजीकरण नम्बर लिखा जाएगा. वहीं, अन्य श्रेणी के बैटरी वाहनों का पंजीकरण नंबर हरी रंग की नंबर प्लेट पर सफेद रंग से लिखा जाएगा. जबकि कॉमर्शियल वाहनों में हरे रंग की नम्बर प्लेट पर सफेद रंग से वाहन का नम्बर लिखा जाएगा. उन्नाव के उप संभागीय परिवहन कार्यालय के मुताबिक, जिले में 1675 पंजीकृत ऐसे वाहन है, जिन पर यह आदेश प्रभावी होगा. वहीं अधिकारियों का कहना है कि नई व्यवस्था से बैटरी चालित वाहनों की आसानी से पहचान हो सकेगी. 

केंद्रीय मोटरयान नियमावली के अनुसार अब बैटरी चलित वाहनों पर नए तरीके की नंबर प्लेट लगेगी. जिले में 1300 से अधिक ई-रिक्शा पंजीकृत हैं. वाहन मालिकों को 15 जुलाई तक समय दिया गया है. इसके बाद अभियान चलाकर आदेश का पालन न करने वाले के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.