close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आगरा पुलिस की मदद से 10 साल बाद बेटे से मिली मां, हर किसी की आंखें हो गईं नम

पिछली 7 अगस्त को शमशाबाद थाना क्षेत्र में कुछ लोगों ने इस महिला को बच्चा चोरी के शक में बीच सड़क जमकर पीटा,मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला की जान बचाई और इसे थाने ले आये.

आगरा पुलिस की मदद से 10 साल बाद बेटे से मिली मां, हर किसी की आंखें हो गईं नम

आगराः यूपी में आगरा पुलिस की पहल से एक मां अपने बेटे से 10 साल बाद मिली. ये तस्वीरे देखकर किसी की भी आंखें नम हो जायेंगी. जब ये मां अपने बेटे महेंद्र से सालों बाद मिली तो इसे गले लगाकर फूट फूटकर रोने लगी. ये दृश्य देखकर थाने में मौजूद पुलिस अधिकारी और पुलिस कर्मी भी भावुक हो गये.

सड़क पर घूमती थी बेसहारा
दरअसल ये महिला मानसिक रूप से विक्षिप्त है कई सालों पहले ये अपने परिवार से बिछड़ गई थी और 10 सालों से सड़कों पर भटक रही है. पिछली सात अगस्त को शमशाबाद थाना क्षेत्र में कुछ लोगों ने इस महिला को बच्चा चोरी के शक में बीच सड़क जमकर पीटा,मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला की जान बचाई और इसे थाने ले आये.

एसएसपी ने की थी पहल
आगरा एसएसपी बब्लू कुमार को जब पता चला कि एक महिला ऐसी है जिसके घर का कुछ पता नही है तो उन्होंने तुरंत एस पी पुर्वी प्रमोद कुमार को जिम्मा सौंपा इस महिला के परिवार को ढूंढने का, फिर क्या था एस पी पूर्वी के नेतृत्व में शमशाबाद थाने की टीम जुट गई और खोज निकाला महिला के परिवार को.

बेटा मां को लेने आया आगरा
जैसे ही पुलिस ने छोटा उदयपुर(गुजरात) मे रहने वाले महिला के परिवार को ढूंढ निकालने के बाद संपर्क किया तो फिर क्या था महिला के बेटे की खुशी का ठिकाना नही रहा.बेटा महेंद्र अपनी मां को लेने आगरा पहुंच गया.आगरा फोर्ट स्टेशन पर पहुंचे बेटे को पुलिस थाने लेकर आई जहाँ वो अपनी माँ से मिला.

पुलिस की हो रही है सराहना
पुलिस की आलोचना होते तो आपने कई बार सुना होगा पर पुलिस के इस काम की हर ओर सराहना हो रही है. वास्तव में आगरा पुलिस ने एक मां को उसके बेटे से मिलाकर एक परिवार को पूरा किया है जिसकी जितनी भी प्रशंसा की जाये कम है.