UP: डिप्टी सीएम मौर्य का PFI बैन पर बड़ा बयान, कहा- SIMI किसी भी रूप में पनपेगा तो, उसे कुचल देंगे

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में उत्तर प्रदेश में कई जिलों में हिंसक और उग्र प्रदर्शन किए गए थे. वहीं, पुलिस की जांच में इन हिंसक प्रदर्शनों में पीएफआई की भूमिका सामने आई थी.

UP: डिप्टी सीएम मौर्य का PFI बैन पर बड़ा बयान, कहा- SIMI किसी भी रूप में पनपेगा तो, उसे कुचल देंगे
पीएफआई की एक अन्य शाखा सोशलिस्ट डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (SDPI) भी पुलिस के रडार पर है.

लखनऊ: यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने पीएफआई (PFI) पर प्रतिबंध लगाने को लेकर बड़ा बयान दिया है. डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि पीएफआई यानी पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया पर प्रतिबंध लगाने के लिए प्रस्ताव बनाया जा रहा है. पीएफआई को यूपी में बैन किया जाएगा. केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि सिमी (SIMI) किसी भी रूप में पनपेगा तो, उसे कुचल दिया जाएगा. गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में उत्तर प्रदेश में कई जिलों में हिंसक और उग्र प्रदर्शन किए गए थे. वहीं, पुलिस की जांच में इन हिंसक प्रदर्शनों में पीएफआई की भूमिका सामने आई थी.

हाल ही में पुलिस और गृह विभाग ने सरकार के पास प्रस्ताव भेजकर पीएफआई पर बैन लगाने की मांग की थी. वहीं, पुलिस ने हिंसक प्रदर्शनों के मामले में पीएफआई संगठन से जुड़े कई लोगों को गिरफ्तार किया है. अब तक हुई पुलिस कार्रवाई में उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों से पीएफआई के करीब डेढ़ दर्जन लोगों गिरफ्तार किया गया है. पुलिस जांच में सामने आया है कि सिमी (SIMI) संगठन पर प्रतिबंध लगने के बाद ये लोग पीएफआई में शामिल हो गए थे. गौरतलब है कि यूपी पुलिस ने लखनऊ में हिंसा के फैलाने के मास्टरमाइंड पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (Popular Front of India) के नदीम (लखनऊ), वसीम (लखनऊ) और अशफाक (बाराबंकी) को गिरफ्तार किया है. ये सभी पीएफआई के सदस्य हैं. 

पुलिस जांच में सामने आया था कि 19 दिसंबर को लखनऊ में किए गए हिंसक प्रदर्शनों में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया का हाथ था. पुलिस ने इन लोगों के पास से भारी मात्रा में भड़काऊ सामग्री बरामद की थी. इसके साथ ही पीएफआई की एक अन्य शाखा सोशलिस्ट डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (SDPI) भी पुलिस के रडार पर है.