लखनऊ पुलिस को मिली बड़ी सफलता, मुठभेड़ के बाद 2 बांग्लादेशी डकैतों को किया गिरफ्तार
X

लखनऊ पुलिस को मिली बड़ी सफलता, मुठभेड़ के बाद 2 बांग्लादेशी डकैतों को किया गिरफ्तार

जानकारी के मुताबिक यह गैंग बांग्लादेश से आता था और वारदात करके फिर वापस लौट जाता था. लंबे समय से पुलिस को इस गैंग का इंतजार था. 

 

लखनऊ पुलिस को मिली बड़ी सफलता, मुठभेड़ के बाद 2 बांग्लादेशी डकैतों को किया गिरफ्तार

मयूर शुक्ला/लखनऊ: राजधानी लखनऊ की पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. चिनहट के मल्हार में रविवार देर रात पुलिस और बंगलादेशी बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई. बांग्लादेशियों और पुलिस के बीच हुई फायरिंग में दो बदमाश और एक सिपाही को गोली लगी है. जबकि तीन बदमाश घायल हो गए. जिनको इलाज के लिए लोहिया अस्पताल में भार्ती काराया गया है. पुलिस की गिरफ्त में आए शातिर बदमाशों पर दर्जनों संगीन मामले दर्ज हैं और ये डकैती डालने के लिए आए थे. सभी बांग्लादेश के रहने वाले हैं.

डकैती की वारदात को अंजाम देने जा रहे थे बांग्लादेशी
एसीपी विभूति खंड अनूप सिंह ने बताया कि करीब 10 से 12 बांग्लादेशी बदमाशों का गैंग लखनऊ में डकैती की वारदात को अंजाम देने जा रहा था. दोनों बदमाश साथियों के साथ मल्हार में डकैती डालने की योजना से आए थे. चेकिंग पर निकली पुलिस टीम ने शक होने पर बदमाशों को पूछताछ के लिए रोका तो वे भागने लगे. इस दौरान पुलिस ने जब उनका पीछा किया तो फायरिंग शुरू कर दी. जवाबी फायरिंग में दो बदमाशों के पैर में गोली लगी है, जबकि अन्य फरार हो गए. घायल बदमाशों में रुबिल और आलम उर्फ अलीम बताया है. 

देर रात तक साथियों की तलाश करती रही पुलिस 
पुलिस बांग्लादेशी गैंग के दोनों बदमाशों के साथियों के बारे में पता लगाने में जुट गई है. पुलिस देर रात तक गिरफ्तार आरोपियों के साथियों की तलाश में जुटी रही, लेकिन उनका सुराग नहीं लग सका. पुलिस के मुताबिक करीब 6 से 7 की संख्या में बदमाश थे. अन्य साथियों की तलाश में पुलिस टीम आसपास के इलाके में कांबिंग कर रही है. 

वारदात को अंजाम देने के बाद लौट जाते थे बांग्लादेश 
मुठभेड़ की सूचना पर जेसीपी अपराध निलाब्जा चौधरी, डीसीपी संजीव सुमन, एडीसीपी कासिम आब्दी मौके पर पहुंच गए थे. वहीं, एनकाउंटर में शामिल पुलिसकर्मियों को ज्वाइंट कमिश्नर ने 2 हजार रुपए का इनाम देने का ऐलान किए हैं. जानकारी के मुताबिक यह गैंग बांग्लादेश से आता था और वारदात करके फिर वापस लौट जाता था. लंबे समय से पुलिस को इस गैंग का इंतजार था. 

कुशीनगर: बेसहारा बच्चों के लिए सहारा बनी ननद और भाभी की जोड़ी, बेटियों को बनाती हैं आत्मनिर्भर

International Girls Day पर सुने बाप-बेटी का यह गाना, शर्तिया कहेंगे 'वाह जी वाह'-VIDEO

WATCH LIVE TV

 

Trending news