हिरासत में मृत सफाइकर्मी की पीएम रिपोर्ट चौंकाने वाली: पैरों में खरोंच, कूल्हे पर चोट के निशान, मौत का कारण हार्ट अटैक
X

हिरासत में मृत सफाइकर्मी की पीएम रिपोर्ट चौंकाने वाली: पैरों में खरोंच, कूल्हे पर चोट के निशान, मौत का कारण हार्ट अटैक

अरुण वा​ल्मीकि के शव का पोस्टमार्टम दो डॉक्टरों के पैनल ने किया था. इसकी वीडियोग्राफी भी कराई गई है. एसएसपी मुनिराज जी ने बताया कि मृतक पैरों में खरोंच और नितंबों पर चौट के निशान हैं.

हिरासत में मृत सफाइकर्मी की पीएम रिपोर्ट चौंकाने वाली: पैरों में खरोंच, कूल्हे पर चोट के निशान, मौत का कारण हार्ट अटैक

आगरा: पुलिस हिरासत में मरने वाले सफाई कर्मचारी अरुण वाल्मीकि के शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ गई है, जिसमें उसके शरीर पर चोट के चार निशान मिले हैं. नितंबों पर चोट के दो नीले निशान हैं. दोनों पैरों पर खरोंच के निशान मिले हैं. पीएम रिपोर्ट में मौत की वजह हार्ट अटैक बताया गया है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी. 

रात पर पहरा हटा: UP में नाइट कर्फ्यू खत्म, रात 11 से सुबह 6 बजे तक कोई पाबंदी नहीं

अरुण वा​ल्मीकि के शव का पोस्टमार्टम दो डॉक्टरों के पैनल ने किया था. इसकी वीडियोग्राफी भी कराई गई है. एसएसपी मुनिराज जी ने बताया कि मृतक पैरों में खरोंच और नितंबों पर चौट के निशान हैं. यह हाल के और पुराने भी हो सकते हैं. शरीर के अन्य अंगों पर चोट नहीं है. वहीं मौत का कारण है हृदय घात से होना आया है. इस आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

हिरासत में प्रियंका: मृत सफाईकर्मी के परिवार से मिलने जा रही थीं आगरा, शहर के एंट्री पॉइंट पर रोका

थाना जगदीशपुरा में मृतक अरुण वा​ल्मीकि के भाई सोनू ने मुकदमा दर्ज कराया है. तहरीर में लिखा है कि मेरे भाई अरुण को चोरी के मामले में पुलिस पूछताछ करते हुए थाने से घर पैसे बरामदगी के लिए लाई थी. पुलिस जब घर की तलाशी ले रही थी, तभी अचानक अरुण की तबीयत खराब हो गई. मैं व पुलिसवाले उसे अस्पताल लेकर आए, जहां उसकी मौत हो गई. पुलिस की कड़ाई और बदसलूकी से मेरा भाई मरा है. इस पर कार्रवाई की जाए. 

जुलूस पर सख्त एक्शन: कानपुर में रोक के बाद भी निकाला जुलूस-ए-मोहम्मदी, 303 पर FIR

इस मामले में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. पोस्टमार्टम हाउस पर अरुण की मां कमला देवी का हाल बेहाल था. वह एक ही बात कह रही थीं कि थाने में पुलिस वालों ने चोरी की. मगर, मार दिया मेरा बेटा. थाने में पुलिस थी तो वह अकेला कैसे चोरी कर सकता है? वह पुलिसवालों के नाम बताने वाला था, इसलिए उसकी जान ले ली. इस मामले में तीन पुलिस कर्मियों को सस्पेंड किया गया है.

WATCH LIVE TV

Trending news