उत्तराखंड के सियासी गलियारों में हलचल: क्या हरीश रावत के आगे सरेंडर हुए हरक? जानें 'बड़ा भाई' बुलाने के मायने
X

उत्तराखंड के सियासी गलियारों में हलचल: क्या हरीश रावत के आगे सरेंडर हुए हरक? जानें 'बड़ा भाई' बुलाने के मायने

हरक रावत ने हरीश रावत को बड़ा भाई बताते हुए उनसे माफी मांगी है. हालांकि, हरक ने साफ तौर पर कहा है कि वह कांग्रेस में वापसी के लिए माफी नहीं मांग रहे हैं...

उत्तराखंड के सियासी गलियारों में हलचल: क्या हरीश रावत के आगे सरेंडर हुए हरक? जानें 'बड़ा भाई' बुलाने के मायने

कुलदीप नेगी/देहरादून: कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत का पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के प्रति सॉफ्ट कॉर्नर उत्तराखंड की सियासत में बड़ी चर्चा का विषय बना हुआ है. चुनाव के पहले दलबदल की राजनीति हमेशा से चलती रही है. इस बीच भाजपा और कांग्रेस में रोदजाना राजनीति की नई खबर सामने आती रहती हैं. नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह के साथ भाजपा सरकार के मंत्री हरक सिंह रावत की मुलाकात को लेकर अभी अटकलें चल ही रही थीं कि हरक रावत ने एक और बयान दे दिया है. ऐसा बयान, जिसने राजनीति के गलियारों में हलचल पैदा कर दी है. दरअसल, हरक सिंह रावत ने अपने बयान में हरीश रावत को 'बड़ा भाई' बताया है.

यूपी में महिलाओं के टिकट तय करने कांग्रेस की महत्वपूर्ण बैठक आज शाम

हरक रावत ने हरीश रावत को बताया बड़ा भाई
हरक रावत ने हरीश रावत को बड़ा भाई बताते हुए उनसे माफी मांगी है. हालांकि, हरक ने साफ तौर पर कहा है कि वह कांग्रेस में वापसी के लिए माफी नहीं मांग रहे हैं. लेकिनस, जितने दिमाग, उतने सियासी अर्थ. वहीं, कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल हरक सिंह रावत के बयान को लेकर कहते हैं कि अक्सर हरीश रावत जिस प्रकार की बयानबाजी करते हैं उसी संदर्भ में हरक सिंह रावत के बयान सामने आए हैं.

सुबोध उनियाल ने कांग्रेस पर साधा निशाना
कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल का कहना है कि हरीश रावत उम्र के उस पड़ाव पर हैं, जहां पर संतुलन में कमी आ जाती है. जहां तक वह माफी मांगने की बात करते हैं, तो माफी मांगने की आवश्यकता उनको है. उन्होंने प्रदेश का सेवक होने के बावजूद प्रदेश को लूटने के लिए मंत्रियों को प्रोत्साहित किया. शराब माफियाओं और खनन माफियाओं को खुला संरक्षण देने का काम किया है. इसका परिणाम जनता ने उनकी पार्टी का सूपड़ा साफ कर दे दिया है.

एक दर्दनाक हादसा और खत्म हो गया परिवार: हरियाणा एक्सीडेंट में फिरोजाबाद के 8 की मौत

क्या कहा था हरक रावत ने?
मीडिया से बात करते हुए हरक रावत ने कहा, 'वह बड़े हैं, बड़े भाई हैं, उन्हें पूरा अधिकार है कि वो मुझे कुछ भी कहें. मैं उनसे माफी मांग रहा हूं, लेकिन इसलिए नहीं कि मुझे कांग्रेस में वापसी चाहिए, बल्कि इसलिए कि हरीश रावत जी बड़े हैं.' अब प्रीतम सिंह और हरक सिंह रावत की मुलाकात के बाद हरीश रावत के लिए उनका यह बयान सियासत में उथल-पुथल मचाने के लिए काफी था.

WATCH LIVE TV

Trending news