close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

साथी सिपाही ने महिला सिपाही को मायावती के नाम से बुलाया तो पीट-पीटकर कर दिया लहूलुहान

हमीरपुर जेल में तैनात प्रधान बंदी रक्षक सावित्री देवी ने दौड़ा दौड़ा कर पीटा. वह तब तक उसे पीटती रही है जब तक यह खून में लथपथ होकर गिर नहीं गया है.

साथी सिपाही ने महिला सिपाही को मायावती के नाम से बुलाया तो पीट-पीटकर कर दिया लहूलुहान

रविंद्र निगम, हमीरपुर: उत्‍तर प्रदेश के हमीरपुर जेल में महिला प्रधानन बंदी रक्षक ने जेल में तैनात सिपाही को मार मारकर लहूलुहान कर दिया. कारण पूछने पर महिला बंदी रक्षक ने बताया कि वह सिपाही उसे मायावती के नाम से पुकारता है. इसलिए उसने उसकी बेरहमी से पिटाई कर दी.

शनिवार को जेल में उस वक़्त अफरातफरी मच गई जब एक महिला प्रधान बंदी रक्षक ने जेल में ही तैनात सिपाही को दौड़ा दौड़ा कर पीटना शुरू कर दिया और तब तक पीटा जब तक सिपाही लहुलुहान होकर गिर नहीं गया. महिला बंदी रक्षक का कहना है की वह दलित है इसलिए उसे जेल में मायावती कह कर बुलाया जा रहा था.

घायल अवस्‍था में सिपाही आशीष पांडेय को हमीरपुर सदर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है. पुलि‍स के अनुसार, सिपाही आशीष पाण्डेय जेल में ही तैनात है. शनिवार को जेल में ही तैनात प्रधान बंदी रक्षक सावित्री देवी ने दौड़ा दौड़ा कर पीटा. वह तब तक उसे पीटती रही है जब तक यह खून में लथपथ होकर गिर नहीं गया है. महिला प्रधान बंदी रक्षक और सिपाही के बीच मारपीट पर सावित्री देवी का कहना है कि वह दलित है इसलिए उसे मायावती कह कर बुलाया जा रहा था. इसलिए उसने ऐसा किया. हालांकि घायल सिपाही ने इस मार-पीट की वजह साफ़ साफ़ नहीं बताई है.

इस घटना के बाद जेल प्रशासन में हड़कंप मच गया. सिपाही आशीष पाण्डेय को सदर अस्पताल पहुँचाया गया साथ ही हमीरपुर के अपर जिलाधिकारी और जेलर भी अस्पताल पहुंचे हुए हैं, जो पूरे मामले की जांच की बात कह रहे हैं.