LOCKDOWN: श्रमिकों को रोजगार देने के लिए योगी सरकार ने बनाई कमिटी, जल्द मिलेगा काम

संकट की घड़ी में योगी सरकार लोगों की मदद के लिए हर संभव प्रयास कर रही है. सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा हाल ही में गठित की गई टीम-11 के तीन वरिष्ठ मंत्रियों की अहम बैठक हुई.

LOCKDOWN: श्रमिकों को रोजगार देने के लिए योगी सरकार ने बनाई कमिटी, जल्द मिलेगा काम
योगी सरकार श्रमिकों को दे सकती है राहत

लखनऊ: संकट की घड़ी में योगी सरकार लोगों की मदद के लिए हर संभव प्रयास कर रही है. सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा हाल ही में गठित की गई टीम-11 के तीन वरिष्ठ मंत्रियों की अहम बैठक हुई. इसमें राज्य के साथ ही बाहर से आए तमाम श्रमिकों को रोजगार देने पर विचार किया गया.

टीम इलेवन की बैठक
इस टीम में सूबे के तजुर्बेकार और जिम्मेदार माने जाने वाले मंत्री शामिल किए गए हैं. इन्ही में से मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह, महेंद्र सिंह एवं उपेंद्र चौधरी ने अधिकारियों के साथ श्रमिकों के लिए रोजगार के मुद्दे पर विस्तृत चर्चा की.

रोजगार के बनाए जा रहे अवसर
बैठक में श्रमिकों को मनरेगा के जरिए जल्द ही रोजगार उपलब्ध कराने पर विचार किया गया. साथ ही फैसला लिया गया कि लॉकडाउन के दौरान अलग-अलग राज्यों से यूपी आए श्रमिकों को भी सरकार पंजीकरण के बाद काम देगी.

आपको बता दें कि प्रदेश में करीब सात हजार औद्योगिक ईकाइयां हैं. जबकि 12 हजार से अधिक ईंट-भट्ठों में बारह से पंद्रह लाख के आसपास श्रमिक कार्य कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें: अलीगढ़: दो सब्जी वालों के आपसी विवाद में पुलिस जवान को लग गई चोट

नोडल अधिकारी की नियुक्ति
मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा श्रमिकों को रोजगार के लिए एक समिति का गठन किया गया है जिसके नोडल अधिकारी ग्राम्य विकास के प्रमुख सचिव होंगे. वो रोजगार से लेकर अन्य मामलों पर अपनी रिपोर्ट समिति को सौपेंगे. इस रिपोर्ट को कैबिनेट में रखा जाएगा. मंत्री के अनुसार श्रमिकों को परेशान होने की जरूरत नहीं है, सरकार उनके साथ खड़ी है.

watch live tv: