close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ब्रैडली मैनिंग जासूसी के कई मामलों में दोषी

बहुचर्चित वेबसाइट विकीलीक्स को अमेरिका के खुफिया दस्तावेज लीक करने के आरोपी पूर्व अमेरिकी खुफिया विश्लेषक ब्रैडली मैनिंग को दुश्मन की सहायता करने के गंभीर आरोप से बरी कर दिया गया है, लेकिन उसे जासूसी के कई आरोपों में दोषी ठहराया गया है।

वाशिंगटन : बहुचर्चित वेबसाइट विकीलीक्स को अमेरिका के खुफिया दस्तावेज लीक करने के आरोपी पूर्व अमेरिकी खुफिया विश्लेषक ब्रैडली मैनिंग को दुश्मन की सहायता करने के गंभीर आरोप से बरी कर दिया गया है, लेकिन उसे जासूसी के कई आरोपों में दोषी ठहराया गया है।
करीब तीन साल पहले 25 वर्षीय मैनिंग को अमेरिकी सरकार की कई गोपनीय जानकारियां उनका भंडाफोड़ करने वाली वेबसाइट विकीलीक्स को मुहैया कराने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।
सैन्य न्यायाधीश कर्नल डेनिस लिंड ने मैनिंग को जासूसी के आरोपों का दोषी पाया। इसको लेकर उन्हें 136 साल की कैद की सजा हो सकती है। मैनिंग के वकील डेविड कूंब्स ने कहा कि वह फैसले से खुश है, लेकिन उन्होंने संकेत दिया कि कोर्ट-मार्शल की प्रक्रिया के सजा दिए जाने के चरण के दौरान निर्णायक क्षण आएगा। कोर्ट मार्शल की शुरुआत बुधवार से होगी और यह आने वाले कई हफ्तों तक चलेगा।
मैनिंग ने पहले विकीलीक्स को गोपनीय जानकारी मुहैया कराने की बात स्वीकार की थी। सैन्य न्यायाधीश ने उसे 22 आरोपों में से 20 में दोषी करार दिया। कूंब्स ने कहा कि आज एक अच्छा दिन है, लेकिन ब्रैडली किसी भी तरह से बरी नहीं हुआ है। (एजेंसी)