Zee Rozgar Samachar

WhatsApp ने फिर दिखाई 'दादागिरी', अगर नहीं मानी Privacy Policy की शर्त तो होगा ये बड़ा Loss

WhatsApp की 'दादागिरी' में फिलहाल कोई कमी नहीं आई है. मैसेजिंग ऐप ने एक बार फिर अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी (Privacy Policy) यूजर्स को भेजा है. साथ ही कहा गया है कि अगर तय समय के भीतर शर्तों को एक्सेप्ट नहीं किया गया तो नुकसान हो सकता है. हम बताते हैं शर्त नहीं मानने के नुकसान...

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Feb 22, 2021, 14:19 PM IST
1/5

दोबारा भेजा जा रहा है नोटिफिकेशन

Notification being sent again

टेक साइट telecomtalk के अनुसार WhatsApp ने एक बार फिर यूजर्स को नई प्राइवेसी पॉलिसी का नोटिफिकेशन भेजना शुरू कर दिया है.

 

2/5

15 मई तक करना होगा एक्सेप्ट

15 May is deadline for new whatsapp policy

जानकारी के मुताबिक WhatsApp ने यूजर्स से कहा है कि नई प्राइवेसी पॉलिसी को 15 मई तक एक्सेप्ट करना होगा. पिछली बार की तरह ही इस बार भी यूजर्स को इन शर्तों को न मानने का ऑप्शन नहीं दिया गया है.

 

3/5

ये फीचर्स हो जाएंगे डिसेबल

These features will be disabled

रिपोर्ट के मुताबिक WhatsApp ने साफ कर दिया है कि आपको नई शर्तें माननी होंगी. अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो WhatsApp से आने वाले कॉल्स और नोटिफिकेशन तो मिलते रहेंगे. लेकिन यूजर्स मैसेज पढ़ नहीं पाएंगे. इसके अलावा मैसेज भेजने का भी ऑप्शन बंद हो सकता है.

 

4/5

पहले भी WhatsApp कर चुका है कोशिश

WhatsApp did it before

बताते चलें कि इस साल 4 जनवरी को भी WhatsApp ने ऐसा ही एक प्राइवेसी पॉलिसी यूजर्स को भेजा था. इसमें यूजर्स से कहा गया था कि आपके चैट्स, कॉन्टेक्ट लिस्ट और लेन-देन की जानकारी फेसबुक (Facebook) और इंस्टाग्राम (Instagram) के साथ साझा की जाएगी.

 

5/5

विरोध में यूजर्स छोड़ रहे हैं WhatsApp

WhatsApp users are moving to Telegram and Signal

जब से WhatsApp ने लोगों के डेटा को दूसरे प्लेटफॉर्म के साथ साझा करने की बात कही है, यूजर्स ने दूसरे ऐप्स में जाना शुरू कर दिया है. WhatsApp के इन शर्तों के विरोध में दुनिया भर के यूजर्स अब टेलीग्राम (Telegram) और सिग्नल (Signal) यूज करने लगे हैं.