IND vs ENG: शांत Ajinkya Rahane का आलोचकों को तगड़ा जवाब, अपनी बैटिंग पर सवाल उठे तो कह दी ये तीखी बात
X

IND vs ENG: शांत Ajinkya Rahane का आलोचकों को तगड़ा जवाब, अपनी बैटिंग पर सवाल उठे तो कह दी ये तीखी बात

IND vs ENG: टीम इंडिया के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे लंबे समय से काफी खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं. जिसके लिए उनकी आलोचना भी जमकर होती है. 

 

IND vs ENG: शांत Ajinkya Rahane का आलोचकों को तगड़ा जवाब, अपनी बैटिंग पर सवाल उठे तो कह दी ये तीखी बात

नई दिल्ली: टीम इंडिया के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे लंबे समय से काफी खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं. रहाणे का बल्ले से रन निकल पाना काफी मुश्किल हो पा रहा है, लॉर्ड्स टेस्ट की एक पारी में उन्होंने हाफ सेंचुरी जरूर जड़ी थी, लेकिन उसे भी वो शतक तक नहीं पहुंचा पाए थे. रहाणे की खराब बल्लेबाजी को लेकर उनकी आलोचना भी जमकर होती है, लेकिन अब उन्होंने अपने आलोचकों को करारा जवाब दिया है. 

आलोचकों को रहाणे का करारा जवाब! 

अजिंक्य रहाणे ने सोमवार को व्यंग्य करते हुए कहा कि जो लोग फॉर्म में नहीं होने के कारण उनकी आलोचना कर रहे हैं वे उन्हें महत्वपूर्ण महसूस करा रहे हैं. उन्होंने साथ ही कहा कि वह कम रन बनाने को लेकर चिंतित नहीं है. रहाणे ने वर्चुअल प्रेस वार्ता में कहा, 'मुझे बहुत खुशी है कि लोग मेरे बारे में बात कर रहे हैं. मेरा हमेशा से मानना रहा है कि लोग महत्वपूर्ण लोगों के बारे में बात करते हैं, इसलिए मैं इसको लेकर ज्यादा चिंतित नहीं हूं. यह बस टीम के लिए योगदान देने की बात है.'

इन चीजों से मिलती है प्रेरणा- रहाणे

रहाणे ने कहा, 'सभी चीजें मुझे प्रेरित करती हैं. देश के लिए खेलना मुझे प्रेरित करता है. मैं आलोचनाओं से परेशान नहीं होता हूं. लोग सिर्फ जरूरी लोगों की आलोचना करते हैं और वे मेरी भी आलोचना कर रहे हैं. मैं सिर्फ नियंत्रण पर ध्यान केंद्रित कर रहा हूं. लॉर्ड्स में खेली गई पारी मेरे लिए संतोषजनक थी. मैं योगदान देने पर भरोसा रखता हूं. मैं सिर्फ टीम के बारे में सोचता हूं. मेरा मानना है कि 61 या 62 रन का योगदान देना भी महत्वपूर्ण है. यह संतोषजनक है.'

लंबे समय से रहाणे हो रहे फलॉप 

अजिंक्य रहाणे लंबे समय से काफी फ्लॉप चल रहे हैं और उनका बल्ला कुछ खास कमाल नहीं कर पा रहा है. रहाणे ने मेलबर्न में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट में शतक जड़ा था. इसके बाद से रहाणे ने 16 टेस्ट पारियों में सिर्फ दो अर्धशतक लगाए हैं. यही कारण है कि रहाणे की लगातार आलोचना होती रहती है. 

Trending news