Punjab New CM: अंबिका सोनी को मिलेगा सोनिया से नजदीकी का फायदा? सीएम को लेकर रातभर चला मंथन

Punjab New CM: पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के उत्तराधिकारी का चयन करने के लिए शनिवार को कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) की बैठक बुलाई गई है. कैप्टन ने शनिवार दोपहर पार्टी में अंदरूनी कलह के बीच इस्तीफा दे दिया था.   

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Sep 19, 2021, 10:27 AM IST
  • जानिए कौन बन सकता है पंजाब का नया मुख्यमंत्री
  • राहुल ने सोनी व केसी वेणुगोपाल की मौजूदगी में की बैठक
Punjab New CM: अंबिका सोनी को मिलेगा सोनिया से नजदीकी का फायदा? सीएम को लेकर रातभर चला मंथन

नई दिल्ली: Punjab Congress Crisis: कैप्टन अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) के पंजाब के मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शनिवार देर रात एक बैठक की, जिसमें पार्टी नेता अंबिका सोनी, महासचिव संगठन के. सी. वेणुगोपाल मौजूद रहे. बैठक आधी रात के बाद समाप्त हुई.

अमरिंदर को शांत करने की कवायद
सूत्रों ने कहा कि नए मुख्यमंत्री और अमरिंदर सिंह को शांत करने की रणनीति पर भी चर्चा हुई. अंबिका सोनी (Ambika Soni) पंजाब से हैं और वरिष्ठ नेता रह चुकी हैं. सूत्रों ने यह भी कहा कि चुनाव होने तक उन्हें मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है, क्योंकि सोनी के सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) के साथ अच्छे संबंध हैं.

सुनील जाखड़ भी हैं रेस में 
पंजाब पार्टी के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ मुख्यमंत्री पद की दौड़ में सबसे आगे हैं. सूत्रों ने कहा कि पार्टी आप का मुकाबला करने के लिए चुनाव से पहले एक गैर सिख चेहरा पेश करना चाहती है, जो राज्य में जमीन हासिल कर रही है.

यह भी पढ़िएः अमरिंदर के इस्तीफे के पीछे सिद्धू नहीं बल्कि राहुल गांधी का हाथ? जानिए विवाद का असली कारण

सूत्रों का कहना है कि पार्टी एक सिख नवजोत सिंह सिद्धू को राज्य कांग्रेस प्रमुख और चुनाव में एक गैर सिख सीएम उम्मीदवार के रूप में चाहती है. अन्य नामों में प्रताप सिंह बाजवा और लुधियाना के सांसद रवनीत सिंह बिट्टू शामिल हैं.

आज होगा नए सीएम का फैसला
पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के उत्तराधिकारी का चयन करने के लिए शनिवार को यहां कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) की बैठक बुलाई गई, जिन्होंने शनिवार दोपहर पार्टी में अंदरूनी कलह के बीच इस्तीफा दे दिया, विधायकों ने सर्वसम्मति से एक प्रस्ताव पारित कर अंतरिम पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को नया नेता चुनने के लिए अधिकृत किया.

78 विधायकों ने पास किया नया नेता चुनने का प्रस्ताव
पार्टी के प्रदेश प्रभारी हरीश रावत ने मीडिया को बताया कि अमरिंदर सिंह और एक अन्य सदस्य को छोड़कर कुल 80 विधायकों में से 78 ने सोनिया गांधी को सीएलपी का नया नेता चुनने के लिए अधिकृत किया. 

यह भी पढ़िएः पाकिस्तान के करीबी और खतरनाक इंसान हैं नवजोत सिंह सिद्धूः अमरिंदर सिंह

उन्होंने कहा, 'दो प्रस्ताव, एक पंजाब के लिए अमरिंदर सिंह के योगदान की प्रशंसा करना और दूसरा अध्यक्ष सोनिया गांधी को नए सीएलपी नेता का चयन करने के लिए अधिकृत करना सर्वसम्मति से पारित किया गया.' पार्टी आलाकमान ने रावत के साथ सीएलपी बैठक के लिए अजय माकन और हरीश चौधरी को केंद्रीय पर्यवेक्षक के रूप में प्रतिनियुक्त किया था.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़