पश्चिम बंगाल में भाजपा नेता की गोली मारकर हत्या, BJP ने TMC पर लगाया आरोप

बीजेपी ने कहा कि मिथुन घोष पार्टी के युवा मोर्चा के जिला सचिव थे. उन्हें अलग-अलग समय पर फोन पर धमकाया गया.   

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Oct 18, 2021, 02:09 PM IST
  • उत्तरी दिनाजपुर जिले की घटना
  • टीएमसी ने आरोपों को बताया गलत
पश्चिम बंगाल में भाजपा नेता की गोली मारकर हत्या, BJP ने TMC पर लगाया आरोप

कोलकाताः पश्चिम बंगाल के उत्तरी दिनाजपुर जिले के इटाहार के एक युवा भाजपा नेता मिथुन घोष की कुछ अज्ञात बदमाशों ने राजग्राम गांव में उनके घर के सामने गोली मारकर हत्या कर दी. भाजपा ने आरोप लगाया कि हत्या के पीछे तृणमूल कांग्रेस के असामाजिक तत्वों का हाथ है.

बाइक सवार बदमाशों ने मारी गोली
हालांकि तृणमूल कांग्रेस ने इस आरोप से इनकार किया है. घटना रात 11 बजे की है. रविवार को जब घोष राजग्राम गांव में अपने घर के सामने खड़े थे, तब दो मोटरसाइकिलों पर सवार कुछ अज्ञात बदमाशों ने उनको पास से गोली मार दी. घोष को तुरंत रायगंज मेडिकल कॉलेज और अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया. घोष की मौत ने उत्तरी दिनाजपुर में नई राजनीतिक बहस छेड़ दी. 

मौखिक रूप से पुलिस को दी थी शिकायत
भाजपा उत्तर दिनाजपुर जिलाध्यक्ष बासुदेव सरकार ने कहा कि मिथुन घोष पार्टी के युवा मोर्चा के जिला सचिव थे. उनका घर इटाहार विधानसभा क्षेत्र के राजग्राम में है. उन्हें अलग-अलग समय पर फोन पर धमकाया गया. हमने मौखिक रूप से पुलिस में शिकायत भी की थी कि एक विशेष राजनीतिक दल के लोग मिथुन को धमका रहे थे. उन्हें कई तरह से परेशान किया गया, लेकिन प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई.

अस्पताल ले जाते समय हुई मौत
उन्होंने कहा कि हमें रविवार रात करीब 11.30 बजे उनकी मौत की खबर मिली. मिथुन अपने घर पर थे. किसी ने उन्हें फोन किया और जब वह अपने घर से बाहर आए तो उन्हें गोली मार दी गई. अस्पताल ले जाते समय उनकी मौत हो गई. हमें यकीन है कि हत्या के पीछे तृणमूल कांग्रेस के गुंडे हैं. हमें कानून पर भरोसा है. हम प्राथमिकी दर्ज करेंगे और पुलिस की कार्रवाई का इंतजार करेंगे. हम कानूनी रूप से घटना की निष्पक्ष सुनवाई चाहते हैं.

तृणमूल ने आरोपों से किया इनकार
उधर, इटाहार तृणमूल कांग्रेस के विधायक मुशर्रफ हुसैन ने कहा कि इस घटना से इटाहार तृणमूल कांग्रेस का कोई लेना-देना नहीं है. बदमाशों ने रात के अंधेरे में फायरिंग की होगी. उनके बीच सांप्रदायिक संघर्ष या कुछ और भी हो सकता है. पुलिस को मामले की जांच करने दीजिए. तृणमूल कांग्रेस हत्या की राजनीति में विश्वास नहीं करती है. मुख्यमंत्री ने हमें समाज में शांति और सद्भाव लाने का निर्देश दिया है और हम उनके निर्देशों का पालन करना चाहते हैं.

यह भी पढ़िएः हरियाणा में युवराज सिंह अरेस्ट, युजवेंद्र चहल पर की थी जातिगत टिप्पणी

लोगों ने हमें वोट दिया है और उनका विश्वास जीतना हमारा कर्तव्य है. लोगों का विश्वास जीतने के लिए हमें लोगों को मारने की जरूरत नहीं है. बीजेपी हमेशा दूसरों पर आरोप लगाने में विश्वास करती है लेकिन उन्हें यह अच्छी तरह जानने की जरूरत है कि पार्टी के अंदर क्या हो रहा है. उन्हें दूसरों को दोष नहीं देना चाहिए.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़