राष्ट्रपति ने जीसी मुर्मू को CAG की शपथ दिलाई, संभाला कार्यभार

जम्मू कश्मीर के पूर्व उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू को आज राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक यानी CAG की शपथ ग्रहण कराई. इस दौरान पीएम मोदी भी मौजूद रहे.

राष्ट्रपति ने जीसी मुर्मू को CAG की शपथ दिलाई, संभाला कार्यभार

नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल पद से त्यागपत्र देने के बाद गिरीश चन्द्र मुर्मू को देश नया CAG बनाया गया है. उन्होंने आज नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक के पद की शपथ ग्रहण कर ली. मुर्मू को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई. कोरोना वायरस के कारण ये कार्यक्रम बहुत ही साधारण रहा लेकिन पीएम मोदी ने समय निकालकर इसमें शिरकत की.

शपथ ग्रहण करने के बाद सम्भाला कार्यभार

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जीसी मुर्मू को राष्ट्रपति भवन में उनको पद की शपथ दिलाई. इसके बाद उन्होंने CAG का कार्यभार संभाल लिया. शपथ लेने के बाद मुर्मू ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और संविधान निर्माता भीमराव अंबेडकर को श्रद्धांजलि अर्पित की. सीएजी एक संवैधानिक पद है, इसीलिए उसे खाली नहीं छोड़ा जा सकता. राजीव महर्षि आज ही इस पद से रिटायर हुए हैं.

जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल थे मुर्मू

आपको बता दें कि जम्मू कश्मीर से 370हटाए जाने के बाद और उसे केंद्र शासित प्रदेश बनाये जाने के बाद गिरीश चंद्र मुर्मू को वहां का उपराज्यपाल बनाया गया था. 5 अगस्त को उन्होंने इस्तीफा दे दिया था क्योंकि उन्हें CAG बनना था. गिरिश चंद्र मुर्मू 1985 बैच के गुजरात कॉडर के आईएएस ऑफिसर है.

क्लिक करें- जेपी नड्डा और वसुंधरा राजे की मुलाकात के बाद गुजरात भेजे गए 12 विधायक

जब मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे, तब इन्हें प्रिंसिपल सेक्रेटरी चुना गया था. बता दें कि कैग की नियुक्ति छह साल के लिए या फिर 65 वर्ष की आयु पूरी होने तक, इसमें से जो भी पहले हो, तक होती है.