सरकार का कबूलनामा, विभिन्न मंत्रालयों से मिलीं महिलाओं के लैंगिक उत्पीड़न की 391 शिकायतें

भारत सरकार ने संसद में माना है कि देश के विभिन्न मंत्रालयों से लैंगिक उत्पीड़ने की तकरीबन 400 शिकायतें मिली हैं. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Jul 29, 2021, 09:32 PM IST
सरकार का कबूलनामा, विभिन्न मंत्रालयों से मिलीं महिलाओं के लैंगिक उत्पीड़न की 391 शिकायतें

नई दिल्ली: महिला एवं बाल विकास मंत्री स्‍मृति ईरानी ने बृहस्पतिवार को राज्यसभा में कहा कि विभिन्‍न मंत्रालयों से महिलाओं के लैंगिक उत्‍पीड़न से संबंधित कुल 391 शिकायतों मिली हैं. स्मृति ईरानी ने एक सवाल के लिखित जवाब में राज्यसभा को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि उनके मंत्रालय ने कार्यस्‍थल पर महिलाओं के लैंगिक उत्‍पीड़न से संबंधित शिकायतों की पंजीकरण सुविधा देने के लिए एक ऑनलाइन शिकायत प्रबंधन तंत्र विकसित किया है. इसे लैंगिक उत्‍पीड़न इलेक्‍ट्रॉनिक बॉक्‍स (सी-बॉक्‍स) नाम दिया गया है.

अबतक मिल चुकी हैं 391 शिकायतें 
उन्होंने कहा कि एक बार सी-बॉक्‍स में शिकायत दर्ज होने पर यह कार्रवाई के लिए अधिकार क्षेत्र वाले संबंधित प्राधिकारी के पास सीधे पहुंचती है. ऐसी शिकायतों पर कार्रवाई करने की जिम्‍मेदारी संबंधित केंद्रीय मंत्रालयों व विभागों की है. उन्होंने कहा कि अब तक महिला एवं बाल विकास मंत्रालय से संबंधित 36 शिकायतों समेत विभिन्‍न मंत्रालयों से संबंधित शी-बॉक्‍स में कुल 391 शिकायतें मिली हैं.

कार्यस्थल पर सुरक्षित वातावरण देना सर्वोच्च प्राथमिकता 
स्मृति ईरानी ने कहा कि देश में महिलाओं को कार्यस्‍थल पर सुरक्षित वातावरण देना सरकार के लिए सर्वोच्‍च प्राथमिकता में है. इसे ध्‍यान में रखते हुए सरकार ने 'कार्यस्‍थल पर महिलाओं का लैंगिक उत्‍पीड़न (निवारण और शिकायत निपटान) अधिनियम, 2013 लागू किया है. उन्होंने कहा कि महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने कानून के सख्‍त कार्यान्‍वयन के लिए समय-समय पर राज्‍यों व संघ राज्‍य प्रदेशों और केंद्रीय मंत्रालयों व विभागों को दिशानिर्देश जारी किए हैं ताकि महिलाओं के लिए अनुकूल माहौल का निर्माण किया जा सके.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़